आग से झुलसी महिला की उपचार के दौरान मौत, ससुरालियों पर दहेज प्रताड़ना का केस

ख़बर शेयर करें -

हरिद्वार। आग से झुलसी आठ माह की गर्भवती महिला की इलाज के दौरान मौत हो गई। पुलिस ने दहेज उत्पीड़न के आरोप में पति, देवर और सास के खिलाफ मुकदमा दर्ज किया है।

पीतपुर निवासी कृष्णपाल ने पुलिस को दी तहरीर में बताया कि उसकी छोटी बहन प्रियंका देवी की शादी 19 दिसंबर 2022 को बहादराबाद थाना क्षेत्र के शांतरशाह निवासी गुड्डू के साथ हिंदू रीति रिवाज से हुई थी। आरोप है कि पति गुड्डू, सास कमलेश और देवर कमल आए दिन दहेज के लिए उसे प्रताड़ित करते थे। 

यह भी पढ़ें 👉  मनोयोग और तत्परता से काम करें निर्वाचन में लगे अधिकारीः शाह

आरोप लगाया कि पति का प्रेम प्रसंग किसी अन्य महिला के साथ भी चल रहा है। आरोप है कि उसकी बहन का लगातार मानसिक उत्पीड़न और अभद्र व्यवहार किया जा रहा था। शिकायत में बताया कि परेशान होकर सात मार्च को प्रियंका ने खुद पर पेट्रोल डालकर आग लगा ली। अधजली हालत में उसे एम्स हॉस्पिटल में भर्ती कराया गया। जहां इलाज के दौरान मंगलवार को उसकी मौत हो गई।

यह भी पढ़ें 👉  Uttarakhand Weather-इन पांच जिलो मे आज भी कहीं-कहीं गर्जन के साथ आकाशीय बिजली चमकने की चेतावनी,पढ़िये मौसम पूर्वानुमान

बताया कि उसकी बहन आठ माह की गर्भवती थी, उपचार के दौरान पेट में उसके बच्चे की भी मौत हो गई। थाना प्रभारी नरेश राठौड़ ने बताया कि गुड्डू, कमलेश और कमल निवासी शांतरशाह के खिलाफ संबंधित धाराओं मुकदमा दर्ज कर जांच शुरू कर दी है।