दीजिये बधाई-तन्मय तिवारी बने सेना में अफसर, माता-पिता,परिजनों,और परिचितों का सीना गर्व से चौड़ा

ख़बर शेयर करें -

रानीखेत– ग्राम डढूली, पोस्ट सौनी   जिला अल्मोड़ा के निवासी वरिष्ठ प्रवक्ता श्री प्रकाश  चन्द्र तिवारी के पुत्र तन्मय तिवारी भारतीय  सैन्य अकादमी,देहरादून की शनिवार को सम्पन्न पासिंग आउट परेड के बाद सेना में लेफ्टिनेंट के रूप में नियुक्त हुए हैं।

उनकी इस उपलब्धि से परिजनों में जहां खुशी का माहौल है तो वहीं तमाम गणमान्य लोग, कार्मिक, शिक्षक,अधिकारी,विभिन्न राष्ट्रीय और प्रान्तीय संगठन , कार्मिक संघों व  संगठनों के लोग, सामाजिक संगठनों और पत्रकारिता से जुड़े तमाम  लोग और परिचित  तन्मय तिवारी की इस उपलब्धि पर पूरे परिवार को बधाई दे रहे हैं।

यह भी पढ़ें 👉  पंतनगर एयरपोर्ट विस्तारीकरण की प्रक्रिया में लाई जाए तेजीः मुख्य सचिव

सेना में बतौर लेफ्टिनेंट के रूप में शामिल हुए तन्मय तिवारी के पिता प्रकाश चन्द्र तिवारी,राइका महतगांव,  माध्यमिक शिक्षा विभाग में वरिष्ठ प्रवक्ता हैं और माता श्रीमती बीना तिवारी,कार्यालय खण्ड शिक्षा  अधिकारी ताड़ीखेत,जिला अल्मोड़ा में मुख्य प्रशासनिक अधिकारी के रूप में कार्यरत हैं‌।

तन्मय तिवारी के कठिन मेहनत, लगन और परिश्रम से एनडीए की परीक्षा पास करने के बाद सफलतापूर्वक प्रशिक्षण पूर्ण करने पर  आइ एम ए देहरादून में उनकी पासिंग आउट परेड में शामिल होकर माता-पिता और परिवारजनों ने इस गर्व के क्षण का अनुभव लिया। इस अवसर  पर उनके ताऊ,मामा ,मित्रगण और परिवार के लोग भी मौजूद थे।

यह भी पढ़ें 👉  प्रॉपटी डीलर की हत्या के विरोध में सड़क पर उतरे लोग, जाम

तन्मय तिवारी  नीट, जे ई ई, बी एच यू , भारतीय कृषि अनुसन्धान परिषद् समेत अनेक प्रतियोगी परीक्षाओं में‌ अच्छे अंकों से सफल होकर चयनित हुए थे,लेकिन उन्होंने भारत माता की सेवा के लिए  सेना को ही वरीयता‌ दी और जीवनपथ के रूप में चुना। बेटे को सेना में लेफ्टिनेंट के रूप में अफसर बनता देख माता-पिता , परिजनों , उनके मूल ग्राम डढूली , रानीखेत के लोगों , आत्मीय स्नेहीजनों परिचितों , विभिन्न संघों – संगठनों के साथियों का सीना गर्व से चौड़ा हो गया है।