बनभूलपुरा हिंसा मामले में मास्टर माइंड से नुकसान की भरपाई में जुटा तहसील प्रशासन, नोटिस चस्पा

ख़बर शेयर करें -

हल्द्वानी। तहसील प्रशासन ने हल्द्वानी हिंसा के आरोपी अब्दुल मलिक से 2.68 करोड़ रुपये की वसूली के लिए कार्रवाई शुरू कर दी है। तहसील कर्मियों ने मलिक के वनभूलपुरा स्थित आवास पर वसूली के लिए नोटिस चस्पा किया। तहसीलदार की ओर से जारी नोटिस के मुताबिक, वनभूलपुरा की हिंसा के दौरान हुए नगर निगम के नुकसान का पैसा एक सप्ताह के भीतर जमा नहीं किया गया, तो संबंधित की चल-अचल संपत्ति की कुर्की की कार्रवाई शुरू कर दी जाएगी।

8 फरवरी को वनभूलपुरा के मलिक का बगीचा क्षेत्र में नजूल भूमि पर बने मदरसा एवं मजहबी स्थल को ध्वस्त करने के दौरान क्षेत्र में हुई हिंसा और आगजनी की घटना के दौरान नगर निगम की संपत्ति को काफी नुकसान पहुंचा था। इस मामले में तत्कालीन नगर आयुक्त पंकज उपाध्याय ने नगर निगम की 2.44 करोड़ रुपये की संपत्ति के नुकसान का आकलन कर डीएम कार्यालय को वसूली के लिए आरसी जारी करने के अनुरोध का पत्र लिखा था। डीएम वंदना सिंह के निर्देश पर एडीएम पीआर चौहान ने मलिक से 2.44 करोड़ की वसूली करने के लिए आरसी जारी की थी और वसूली सुनिश्चित करने के लिए तहसीलदार हल्द्वानी को आदेश जारी किए थे।

यह भी पढ़ें 👉  बिग ब्रेकिंग-लोकसभा निर्वाचन को लेकर नैनीताल पुलिस अलर्ट...........बम डिस्पोजल,डॉग स्क्वाड टीम द्वारा जिलेभर में की जा रही है सघन चैकिंग...........

सोमवार को तहसीलदार सचिन कुमार ने मलिक से 2.68 करोड़ रुपये की वसूली के लिए नोटिस जारी की। यह नोटिस तहसील कर्मचारियों ने मलिक के वनभूलपुरा स्थित आवास में चस्पा कर दिया है। इसमें एक सप्ताह के भीतर तहसील कार्यालय में 2.68 करोड़ रुपये राशि जमा करने के आदेश दिए गए हैं। तहसीलदार ने बताया कि तहसील प्रशासन मलिक से नगर निगम के 2.44 करोड़ समेत कुल 2.68 करोड़ रुपये की वसूली करेगा। इसमें नगर निगम की क्षतिपूर्ति के साथ तहसील का रिकवरी चार्ज भी शामिल है। उन्होंने बताया कि एक सप्ताह के भीतर यह धनराशि जमा नहीं की गई तो मलिक की चल-अचल संपत्ति की कुर्की की कार्रवाई की जाएगी। जिसके लिए क्षेत्र के पटवारियों से मलिक की चल-अचल संपत्ति की पहचान कर रिपोर्ट मांगी गई है।