भारी बरसात,घने जंगल,अंधेरी रात बरसाती नालों के बीच में भटके 04 युवकों के लिए देवदूत बनी कालाढूंगी नैनीताल पुलिस

ख़बर शेयर करें -

दिन हो या रात,धूप हो या बरसात,नैनीताल पुलिस है आपके साथ

भारी बरसात, घने जंगल, बरसाती नालों के बीच में भटके 04 युवकों के लिए देवदूत बनी कालाढूंगी नैनीताल पुलिस

सकुशल रेस्क्यू कर किया परिजनों के सुपुर्द
अपने बच्चों को सकुशल देख परिजनों ने कहा थैंक्यू नैनीताल पुलिस

शनिवार को समय रात्रि लगभग 21.10 बजे डायल 112 पर कालर नदीम निवासी उत्तर उजाला हल्द्वानी द्वारा सूचना दी कि उनके परिवार के 04 लडके जो दोपहर में कोटाबाग क्षेत्र कालाढूंगी में घूमने आये थे जिनके द्वारा बताया गया था कि उनकी कार जंगल में खराब हो गयी थी जिन्हे जंगल से बाहर आने का रास्ता नही मिल रहा है वे रास्ता भटक कर जंगल मे खो गये हैं तथा अत्यधिक बारिश होने के कारण जंगल क्षेत्र में नदी नालो में जलस्तर लगातार बढ रहा है।

यह भी पढ़ें 👉  रामनगर के ड्रेनेज प्लान के कार्य में आएगी तेजी, डीएम ने दिए ये निर्देश

उक्त सूचना पर कालाढूगी थानाध्यक्ष भगवान महर मय पुलिस फोर्स व वन विभाग के कर्मचारियों के साथ संयुक्त टीम बनाकर ब्रहमबुबु मन्दिर से आगे जंगल में तलाश किया गया तो बरसात होने के कारण जंगल में काफी पानी था तथा रास्तों में स्थित बरसाती नालों में जलस्तर काफी था जिसे पार कर जंगल में लगभग 8-10 किलोमीटर अन्दर जाकर उपरोक्त चारों लड़कों को सकुशल बरामद कर उनके परिजनों के सुपुर्द किया गया।

यह भी पढ़ें 👉  सस्ता सोना दिलाने के नाम पर लाखों की ठगी करने वाले दो शातिर गिरफ्तार

उक्त रेस्कयू के सम्बन्ध में चारो बरामद लड़के व उनके परिजनों द्वारा पुलिस की भूरी-भूरी प्रशंसा की गयी।
रेस्क्यू किये गये व्यक्ति-
1- आसिफ पुत्र जमील अहमद निवासी उत्तर उजाल बरेली रोड हल्द्वानी उम्र 32 वर्ष
2- अरसान पुत्र असलम सैफी निवासी उत्तर उजाल बरेली रोड हल्द्वानी उम्र- 26 वर्ष
3- वसीम अहमद पुत्र एच0एन0 सैफी निवासी उत्तर उजाल बरेली रोड हल्द्वानी उम्र- 31 वर्ष
4- राजा सैफी पुत्र अमीर उद्दीन सैफी निवासी उत्तर उजाल बरेली रोड हल्द्वानी उम्र- 32 वर्ष

यह भी पढ़ें 👉  हल्द्वानी में रविवार को भी लागू रहेगा डायवर्जन प्लान, बिजली भी रहेगी ठप

पुलिस / रैस्क्यू टीम-
1- थानाध्यक्ष भगवान सिंह महर
2- अ0 उ0 नि0 तनवीर आलम
3- हे0 का0 राजाराम सिहं
4- हे0 का0 हृदेश कुमार
5- का0 मनोज द्विवेदी तथा वन विभाग टीम