लोन दिलाने के नाम पर लाखों की ठगी करने वाला CA का स्टूडेंट मास्टरमाइंड को पुलिस ने यहाँ से किया गिरफ्तार

ख़बर शेयर करें -

लोन दिलाने के नाम पर प्रोसेसिंग फीस लेकर लाखों की ठगी करने वाला मास्टरमाइंड आया बेतालघाट पुलिस की गिरफ्त में

CA का स्टूडेंट तथा पूर्व पैसा बाजार का कर्मचारी ने की शातिर तरीके से ठगी,पुलिस कर लाई हरियाणा से गिरफ्तार

दिनांक 21.05.2024 को वादी सौरभ बोहरा पुत्र स्व0 देवेन्द्र सिंह बोहरा निवासी बोहरा कालोनी बेतालघाट जनपद नैनीताल द्वारा थाने में लिखित शिकायत दी कि उसकी बेतालघाट बाजार में फर्नीचर की दुकान है। उसके द्वारा ऑनलाईन लोन हेतु गूगल पर सर्च किया गया था।

दिनांक 15.03.24 को एक टोल फ्री नम्बर से उसके पास लोन के सम्बन्ध में फोन आया। फोन करने वाले व्यक्ति ने स्वयं को पैसा बाजार का कर्मचारी बताते हुए वादी को 50 लाख रूपये के लोन दिलाने की बात कही गयी।
दिनांक 28.03.24 तक सौरभ द्वारा प्रोसेसिंग फीस के नाम पर करीब 490000/- रूपये उक्त ठग के गूगल पे के माध्यम से ऑनलाईन ट्रांसफर* किये गये।

यह भी पढ़ें 👉  Corbet Tiger Reserve- गजराज हाथी के हमले से घायल (चंचल) हथिनी की उपचार के दौरान मौत

धोखाधड़ी करने वाले व्यक्ति का मोबाईल स्विच ऑफ हो गया तब वादी को पता चला कि उसके साथ धोखाधड़ी हुई है।

उक्त शिकायत पर थाने में सुसंगत धाराओं में अभियोग पंजीकृत किया गया।
मामले की गम्भीरता को देखते हुए  प्रहलाद नारायण मीणा वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक द्वारा शीघ्र पुलिस टीम का गठन कर ठग की गिरफ्तारी करने के निर्देश दिए गए।

हरबंस सिंह पुलिस अधीक्षक क्राइम नैनीताल एवं सुमित पांडे क्षेत्राधिकार भवाली के पर्यवेक्षण में थानाध्यक्ष बेतालघाट अनीश अहमद के नेतृत्व में पुलिस टीम का गठन किया गया।पुलिस टीम द्वारा टीम द्वारा दौराने विवेचना वादी व अभियुक्त गणों के मोबाईल व अन्य दस्तावेजों का बारीकी से निरीक्षण व अथक प्रयास से दिनांक 28.05.2024 को अभियुक्त आयुष कुमार को गुड़गांव हरियाणा से गिरफ्तार कर आवश्यक कार्यवाही की गई है।

यह भी पढ़ें 👉  राज्य में कानून व्यवस्था चुस्त दुरुस्त, हर अपराधी कानून के शिकंजे में: चौहान

पूछताछ पर अभियुक्त ने बताया कि वह दिल्ली यूनिवर्सिटी से बीकॉम कर चुका है तथा वर्तमान में ऑनलाईन CA की पढ़ाई कर रहा है करीब 06 महीने से एविएटर बैटिंग एप के जरिये ऑनलाईन जुए की लत लग गयी थी इस कारण मैं अपने व अपने दोस्तों के पैसे जुए में हार गया था।मैं पूर्व में Paisa bazaar.com कम्पनी में नौकरी कर चुका था इसलिये उसने लोन के बारे में ऑनलाईन जानकारी लेने वाले व्यक्तियों का डाटा लेकर वादी से सम्पर्क किया और Paisa bazaar.com का कर्मचारी बनकर लोन की प्रोसेसिंग फीस के नाम पर करीब 4 लाख 90 हजार रूपये गूगल पे के माध्यम से अपने खाते में डलवाये गये।

यह भी पढ़ें 👉  Uttrakhand weather-जानिये पहाड़ों से मैदानी इलाकों तक ऐसा रहेगा मौसम,इतना रहेगा तापमान,पढ़िये मौसम पूर्वानुमान

गिरफ्तारी-
आयुष कुमार पुत्र राजेश कुमार निवासी हाउस न0 214/492/30 डी ब्लॉक राजेन्द्र पार्क गुड़गांव हरियाणा

गिरफ्तार टीम में-थानाध्यक्ष बेतालघाट अनीश अहमद,कानि0 गगन  भण्डारी,कानि0 दीपक सिंह मौजूद रहे।