एसएसपी के निर्देश- अपराधों पर अंकुश लगाने के लिए प्रभावी रूप से बढ़ाएं गश्त 

ख़बर शेयर करें -

हल्द्वानी। एसएसपी प्रहलाद नारायण मीणा की अध्यक्षता में जनपद के सभी अधिकारियों के साथ अपराध गोष्ठी आयोजित की गयी। जनपद में घटित आपराधिक घटनाओं एवं लंबित प्रकरणों के खुलासे, निरोधात्मक कार्यवाही, महिला उत्पीड़न, एससी/एसटी एक्ट, साईबर क्राईम, चोरी आदि की घटनाओं की समीक्षा करते हुए इस दिशा में प्रभावी कार्य करने हेतु सर्वसम्बन्धित को निर्देशित किया, तथा निम्न निर्देश दिए गए।

■ थाने में आने वाले आगन्तुकों की फरियाद प्राथमिकता से सुनी जाय एवं पूर्ण प्रयास रहे कि उनकी समस्या का समाधान हो, उनके प्रति आपका व्यवहार मधुर और व्यवहारिक हो।

■ ओवर स्पीड, रैश ड्राईविंग एवं  नशे के कारण होने वाली दुर्घटनाओं एवं आपराधिक गतिविधियों पर अंकुश लगाने हेतु सभी संबंधित निरंतर अपने-अपने क्षेत्रों में वाहन चैकिंग एवं सत्यापन अभियान चलायें।

यह भी पढ़ें 👉  दुःखद- कार खाई में गिरने से छह लोगों की मौत, दो सगे भाई भी शामिल

■ अपने-अपने क्षेत्र की यातायात व्यवस्था ट्रैफिक पुलिस एवं सीपीयू पर ही न छोड़े, अपनी भी जिम्मेदारी समझें। यदि ड्यूटी पर तैनात जवान की लापरवाही प्रतीत हो रही है तो उसकी रिपोर्ट प्रेषित करें। यातायात बाधित होने की स्थिति में सम्बन्धित थाना एवं चौकी प्रभारी भी जिम्मेदार रहेंगे।

 ■ ड्यूटियों में बाहरी जनपदों से प्राप्त पुलिस बल को ड्यूटी के दौरान मुस्तैद रहने हेतु भली- भांति ब्रीफ करें तथा ड्यूटी के दौरान कार्मिकों का रिस्पांस ठीक न होने पर उच्चाधिकारियों को अवगत करायें।

■ किसी भी प्रकार की घटित घटनाओं के त्वरित अनावरण पर जोर देते हुए वारदातें रोकने के लिए ग्राउंड लेवल पर कार्य करना जरूरी है, इसलिए प्रेक्टिकल पुलिसिंग पर ध्यान दें। 

■ कर्मचारियों की अनावश्यक छुट्टी ना रोकी जाय, तथा जवान किसी भी स्तर पर अच्छा कार्य करें तो पुरस्कृत किया जाना आवश्यक है, जिससे वे अधिक मनोबल से कार्य करेंगे।

यह भी पढ़ें 👉  प्रदेश के सैनिक कल्याण मंत्री ने की रक्षा मंत्री से मुलाकात, इन मुद्दों पर हुई चर्चा

■ अपने- अपने क्षेत्र में प्रभावी रूप से गश्त बढ़ाये, पुलिस की मौजूदगी ही अपराधी के अपराध करने की मंशा को नाकामयाब करने के लिए काफी है।

 ■ नशा तस्करों के प्रति कड़ी कार्यवाही, आगामी लोकसभा चुनाव के दृष्टिगत संवेदनशील स्थानों की लगातार चैकिंग /गश्त बढाई जाय।

■ डायल 112 पर प्राप्त शिकायतों को गंभीरता से लें एवं रिस्पांस टाईम बेहतर करने के दिए निर्देश।

■ कैंची धाम में बढ़ती भीड़ के कारण यातायात का अधिक दबाव हो रहा है, ऐसे प्वाइंट जहां पर सड़क पर निर्माण कार्य प्रगति पर होने के कारण यातायात सुचारू नहीं चल रहा वहां पर लगातार पुलिस फोर्स की तैनीती की जाय जिससे यातायात सुचारू रूप से चल सके।   इसके अतिरिक्त मल्लीताल तल्लीताल एवं भीमताल में भी यातायात व्यवस्था पर विशेष ध्यान देने की जरूरत है।

यह भी पढ़ें 👉  Uttarakhand Weather-जानिए कैसा रहेगा राज्य में मौसम,पढ़िये मौसम पूर्वानुमान

■ विवेचनाओं में किसी तरह की ढील न बरतें और शिकायत पर तत्काल संज्ञान लेते हुए एनडीपीएस गैंगस्टर धोखाधड़ी आदि अपराधों को गंभीरता एवं सख्ती से निपटाने के निर्देश दिए। मासिक अपराध गोष्ठी में डॉ0 जगदीश चंद्र, एसपी क्राइम/ट्रैफिक, संगीता सीओ लालकुआं, भूपेंद्र सिंह धोनी, सीओ हल्द्वानी, गौरव किरार, सीएफओ नैनीताल समेत सभी थाना प्रभारी/शाखा प्रभारी मौजूद रहे।