परवान नहीं चढ़ सकी पैसा कमाने की योजना, पुलिस की जांच में उजागर हुआ दुष्कर्म का सच, आधा दर्जन गिरफ्तार

ख़बर शेयर करें -

लक्सर। किशोरी के साथ सामूहिक दुष्कर्म के मामले में पुलिस ने मामले मे मुकदमा दर्ज करने वाले वादी किशोरी के रिश्ते के चाचा समेत आरोपित आधा दर्जन लोगों को गिरफ्तार किया है। मामले में किशोरी के रिश्ते के चाचा ने अपने दो साथियों के साथ मिलकर कुछ बेकसूर लोगों को दुष्कर्म के झूठे मामले में फंसा कर पैसा कमाने की योजना बनाई थी, लेकिन पुलिस जांच में मामले का सच उजागर होने पर योजना परवान नहीं चढ़ सकी। आरोपियों को जेल भेज दिया गया है।

रुड़की क्षेत्र के कान्हापुर निवासी फारूक ने दो दिन पूर्व किशोरी के साथ लक्सर कोतवाली पहुंचकर पुलिस को तहरीर देकर बताया गया था कि किशोरी उसकी भतीजी है, जो लक्सर क्षेत्र के एक गांव में अपने रिश्ते के मामा नसीम उर्फ कल्लू के पास रहती थी। किशोरी की मां मानसिक रूप से पीड़ित होने के चलते वह इधर-उधर भटकती रहती है। रिश्ते के मामा नसीम को इस बात की जानकारी थी कि किशोरी के आगे पीछे कोई नहीं है। जिस पर उसने अपने साथियों अब्दुल रहमान, मुनीश आदि के साथ लम्बे समय तक किशोरी का शारीरिक शोषण किया। जिसके चलते इसी बीच किशोरी घर छोड़ कर चली गई। वह रिश्ते का चाचा फारूक के हत्थे चढ़ गई। आरोपियों को सजा दिलाने का आश्वासनदेकर फारूक किशोरी को अपने विश्वास में लेकर अपने साथ ले गया।

यह भी पढ़ें 👉  Uttrakhand crime-भाई की पत्नी को कुल्हाड़ी से वार कर उतारा मौत के घाट 

फारूक ने अपने साथियों गुलशाद, अहसान एवं नफीस के साथ मिलकर फायदा उठाने की योजना बनाई। फारूक और उसके साथियों ने अपने पुराने मामले में रंजिश के तहत विपक्षियों को फंसाने के लिए किशोरी को अपने जाल में फंसा लिया। षड्यंत्र के तहत किशोरी को उनके खिलाफ बोलने के लिए तैयार कर लिया। योजना के तहत 18 फरवरी को फारूक ने नसीम उर्फ कल्लू ,अब्दुल रहमान, मुनीश, फरमान, अरशद, इस्लाम साजिद व अहसान आठ लोगों के खिलाफ नामजद दुष्कर्म का मुकदमा दर्ज कराया। आरोपी फारूक ने बेगुनाह लोगों को दुष्कर्म के झूठे मुकदमे में फंसाकर उनसे मोटी रकम ऐठने की योजना बनाई, लेकिन पुलिस द्वारा गहनता से मामले की गई जांच में फारूक की योजना धरी की धरी रह गयी।

यह भी पढ़ें 👉  बिग ब्रेकिंग-(रामनगर) इस दिन जारी होगा उत्तराखंड बोर्ड हाईस्कूल-इण्टर का रिजल्ट

उसकी योजना का सच उजागर हो गया. जिस पर पुलिस द्वारा मामले में मुकदमा दर्ज करने वाले वादी किशोरी के रिश्ते के चाचा फारूक निवासी कान्हापुर रुड़की उसके साथी गुलशाद व अहसान को षड्यंत्र रचने तथा तथा मामले में आरोपित नसीम उर्फ कल्लू, अब्दुल रहमान व मनीष निवासी जैनपुर कोतवाली लक्सर को दुष्कर्म के आरोप मे गिरफ्तार कर लिया है। इस बीच पुलिस द्वारा किशोरी का मेडिकल परीक्षण कराये जाने के साथ ही कोर्ट में उसके बयान दर्ज कराए गए। कोतवाल राजीव रौथान ने बताया आरोपियों को जेल भेज दिया गया है। मामले की गहनता से जांच की जा रही है। अन्य जो भी आरोपित मामले में संलिपित होंगे उन्हें गिरफ्तार कर जेल भेजा जाएगा।