पुलिस कांस्टेबल की पत्नी का नगदी व जेवरात भरा बैग किया था पार, तीन शातिर गिरफ्तार

ख़बर शेयर करें -

हल्द्वानी कोतवाली पुलिस के हाथ बड़ी सफलता लगी है। पुलिस ने कांस्टेबल की पत्नी का नगदी व जेवरातों भरा बैग उड़ाने वाले अन्तर्राज्यीय गिरोह के तीन शातिरों को दबोच लिया है। इनके कब्जे से माल बरामद किया गया है। 

मामले का खुलासा सीओ नितिन लोहनी ने किया। बताया कि बीती 16 अप्रैल को रूद्रपुर में विवाह समारोह में शामिल होकर लौट रही पुलिस के जवान संजय सिंह राणा की पत्नी नीमा राणा का नगदी व जेवरात भरा बैग मैजिक वाहन से उड़ा लिया गया। इस मामले को गंभीरता से लेते हुए कोतवाल उमेश कुमार मलिक के नेतृत्व में पुलिस टीम का गठन किया गया।

यह भी पढ़ें 👉  अल्मोड़ा वनाग्नि- आग पर नियंत्रण पाने में लगा एयरफोर्स का एमआई-17 हेलीकॉप्टर

 टीम ने सीसीटीवी कैमरों की फुटेज खंगाली और मुखबिर तंत्र को अलर्ट किया गया। जिसके आधार पर सफलता हाथ लग गई और अन्तर्राज्यीय गिरोह के तीन सदस्यों को काशीपुर रोड, रूद्रपुर से गिरफ्तार कर लिया गया। पकड़े गए आरोपियों में सद्दाम पुत्र खुर्शीद, एहसान अली पुत्र शेर मोहम्मद और नवाब अली पुत्र भूरे निवासी हमीदाबाद, बिलासपुर जिला रामपुर बताए गए हैं। पूछताछ में बताया कि उनका एक गैंग है जो भिन्न-भिन्न स्थानों पर जाकर टैम्पू, मैजिक व बस स्टैण्ड के आस-पास रैकी करते हैं। 

यह भी पढ़ें 👉  बदमाशों ने पुलिस पर झोंके फायर, जवाबी कार्यवाही में बदमाश को लगी गोली

इस दौरान अपने साथ सामान ले जाने वाले लोगों को चिन्हित कर जिस वाहन में वो बैठते हैं, उसमें गैंग के सदस्य भी बैठ जाते हैं। साथ ही मौका देखकर यात्री का बैग व अटैची आदि ब्लैड आदि से काटकर खोलकर उसके अन्दर से किमती सामान चोरी कर लेते हैं। पकड़े गए आरोपी इससे पूर्व भी  रामपुर बरेली व रूद्रपुर से टप्पेबाजी के मामलों में जेल जा चुके हैं। पुलिस ने पकड़े गए आरोपियों के कब्जे से माल भी बरामद कर लिया है। पुलिस टीम में टीपीनगर चौकी प्रभारी दीपक बिष्ट,एएसआई राजेन्द्र मेहरा, हेड कांस्टेबल इशरार नबी, कांस्टेबल तारा सिंह व अनिल टम्टा शामिल रहे।