मुश्किलें बढ़ा रही बारिश- जलभराव से उत्पन्न हुए बाढ़ जैसे हालात

ख़बर शेयर करें -

उत्तराखंड में भारी बारिश लगातार मुसीबतें बढ़ा रही है। बारिश के चलते कुमाऊं में बाढ़ जैसे हालात उत्पन्न हो गए हैं। लगातार हो रही बारिश से ऊधमसिंह नगर जिले में नदी-नाले उफान पर हैं। जलभराव के कारण खेतलसंडा खाम के 25 ग्रामीणों को राहत शिविर में रखा गया। 

मौसम विभाग ने नौ जुलाई तक पूरे कुमाऊं में रेल अलर्ट जारी कर रखा है। जिले में शनिवार की दोपहर से शुरू हुई बारिश लगातार रविवार की शाम तक होती रही। यह सिलसिला सोमवार को भी जारी है। इससे जहां जनजीवन अस्त-व्यस्त सा हो गया है, वहीं लगातार पारा के नीचे लुढ़कने का क्रम भी जारी है। मौसम वैज्ञानिक डॉ. आरके सिंह ने कहा कि दो-तीन दिन तक जिले में मध्यम से भारी वर्षा हो सकती है।

यह भी पढ़ें 👉  बड़ी खबर-पौड़ी तारामंडल और माउंटेन म्यूजियम के निर्माण में भारत सरकार से मदद की मांग को लेकर बलूनी ने की डॉ जितेंद्र सिंह से मुलाक़ात

 लगातार बारिश से हल्द्वानी से लेकर हल्दूचौड़ तक कई कॉलोनियों में जलभराव हो गया। मोतीनगर से लेकर जयपुर बीसा तक सिंचाई नहर का पानी लोगों के घरों में घुस गया। शहर से लेकर ग्रामीण क्षेत्रों में 87 घरों में पानी घुसने की सूचना आई। 

यह भी पढ़ें 👉  SSP NAINITAL की पुलिस टीम की मेहनत लाई रंग........46 लाख कीमत के खोये मोबाइल फोन बरामद कर......269 फरियादियों के चेहरे पर लौटाई मुस्कान.......

उधर हिमालया कॉलोनी छड़ायल सुयाल में घुटनों तक पानी भर गया। 10 घरों में पानी घुसने से लोगों का सामान भी खराब हो गया। दमुवाढूंगा क्षेत्र में रकसिया नाले में दो बाइक सवार बहते-बहते बचे। उनकी बाइक नाले में बह गई। पानी रुकने के बाद लागों की मदद से बाइक निकाली गई।