एलआईसी अभिकर्ता संगठन रामनगर का वार्षिक अधिवेशन संपन्न,इनको बनाया संगठन का अध्यक्ष,संयोजक,सचिव,कोषाध्यक्ष

ख़बर शेयर करें -

चन्द्रशेखर जोशी

एलआईसी अभिकर्ता संगठन रामनगर का आज वार्षिक अधिवेशन संपन्न हुआ। कार्यक्रम का संचालन संगठन के संरक्षक नवीन चन्द्र तिवाड़ी, महामंत्री धर्मपाल असवाल तथा ऊषा पटवाल जी द्वारा संयुक्त रूप से किया गया। दीप प्रज्वलन अध्यक्ष हेम चन्द्र हर्बोला के द्वारा तत्पश्चात सभी के द्वारा निगम गीत का गायन किया गया। महामंत्री द्वारा उपस्थित अभिकर्ताओं को वर्तमान समिति पदाधिकारियों का परिचय, संगठन द्वारा किए गए कार्यों की पुष्टि की गई व सर्वसम्मति से नई कार्यकारिणी का गठन किया गया।

यह भी पढ़ें 👉  बड़ी खबर-( देहरादून) अतिथि शिक्षकों का बढ़ेगा मानदेय………..गंभीर रूप से बीमार शिक्षकों को दी जायेगी अनिवार्य सेवानिवृत्ति……….

अध्यक्ष-हेम चंद्र हर्बोला, संयोजक-रमेश सिंह बिष्ट, वरिष्ठ उपाध्यक्ष -जुनैद अख्तर, उपाध्यक्ष पु.-विजय पाल सिंह रावत, उपाध्यक्ष म.-किरन रावत, सचिव-धर्मपाल असवाल, कोषाध्यक्ष-चंद्रशेखर पाण्डे, मंत्री-जगदीश सिंह मनराल व पूरन नैनवाल, उपसचिव पु.-गोपाल सिंह नेगी, उपसचिव म.-आशा अधिकारी, संगठन सचिव-सलीम खान, मीडिया प्रभारी- श्रवण कुमार उप्पल व कार्यवाही लेखक-प्रदीप पाण्डे घोषित किए गए।

संगठन की परम्परा के अनुसार इस वर्ष भी अभिकर्ताओं को एलआईसी बीमा में उनकी उपलब्धियों के आधार पर सम्मानित किया गया। इस अवसर पर चंद्रशेखर पाण्डे ने ग्रेच्युटी पर चर्चा, तसलीम ने नव व्यवसाय के लिए अनुभव, संतोष ने एम.डी.आर.टी. क्लब के लाभ, हेम हर्बोला ने क्लब सदस्यता के लाभ, समिति संयोजक रमेश सिंह बिष्ट ने बीमा व्यवसाय में नए परिवर्तन तथा जगदीश मनराल द्वारा संगठन के लाभों से अवगत कराया। किरन रावत, आशा अधिकारी, पुरुषोत्तम, प्रमोद आदि द्वारा विचारों का आदान प्रदान किया गया। संरक्षकों द्वारा अनुभव और आशीर्वचन प्रदान किया गया। अध्यक्षीय भाषण के बाद राष्ट्रगान के साथ सभा का समापन हुआ।

यह भी पढ़ें 👉  लागू हुए नए कानूनों को लेकर रामनगर मे कार्यशाला का आयोजन

इस अवसर पर पूरन नैनवाल, जुनैद अख्तर, विजयपाल सिंह रावत, सलीम खान, पूनम तिवाड़ी, किरण रावत, उषा पटवाल, जगदीश मनराल, संतोष जोशी, सोहन सिंह खनायत, गोपाल सिंह नेगी, रामपाल शाह, श्रवण कुमार उप्पल, सतीश चावला, संतोष कुमार, वीरेन्द्र अधिकारी, प्रताप सिंह, आशा अधिकारी, शशि बुधलाकोटी, इंदु ध्यानी, प्रदीप पाण्डे आदि उपस्थित रहे।