बड़ी खबर-देश विदेश से आने वाले सैलानियों के लिए खोले गये गंगोत्री नेशनल पार्क

ख़बर शेयर करें -

उत्तरकाशी:- गंगोत्री नेशनल पार्क सोमवार से पर्यटकों के लिए खोले गये, पार्क प्रशासन ने इसकी तैयारी पहले ही पूरी कर ली थी ।इसके बाद देश-विदेश से आने वाले पर्यटक गर्तांगली, नेलांग और तपोवन की सैर कर सकेंगे। इस बार भारी बर्फबारी और मौसम अनुकूल न होने के कारण पर्यटकों के लिए अभी गोमुख की राह आसान नहीं है। पार्क प्रशासन के अधिकारियों ने बताया है कि क्षेत्र में जगह-जगह ग्लेशियर आने के कारण ट्रैक अवरुद्ध है। इसे ठीक करने में समय लगेगा। ऐसे में पर्यटकों को गोमुख-तपोवन की ट्रैकिंग के लिए अभी थोड़ा इंतजार करना होगा।

गंगोत्री नेशनल पार्क के उप निदेशक रंगनाथ पांडेय ने बताया कि इस बार अधिक से अधिक पर्यटकों के आने की संभावना है।सोमवार को गंगोत्री से दो किमी आगे स्थित कनसू बैरियर कार्यालय में पूजा-अर्चना के बाद सुबह नौ बजे गंगोत्री नेशनल पार्क के गेट खोले गये ।मां गंगा का उद्गम स्थल गोमुख गंगोत्री नेशनल पार्क क्षेत्र में ही है। यह कनखू बैरियर से 22 किलोमीटर दूर है।

यह भी पढ़ें 👉  जिलाधिकारी ने किया पोलिंग बूथों का निरीक्षण,दिये ये महत्वपूर्ण निर्देश

इसके आसपास तपोवन, नंदनवन, कालिंदी पास के साथ शिवलिंग, भागीरथी प्रथम, द्वितीय व तृतीय सहित कई अनाम चोटियां हैं। यह ट्रैकिंग और पर्वतारोहण के शौकीनों को अपनी ओर आकर्षित करती हैं। इनके दीदार के लिए हर साल हजारों सैलानी पहुंचते हैं। वहीं दूसरी ओर नेशनल पार्क के रेंज अधिकारी प्रदीप बिष्ट ने बताया कि ट्रैकिंग और पर्वतारोहण का शौक रखने वाले पर्यटक आगामी 30 नवम्बर तक यहां का दीदार कर सकते हैं।

उन्होंने बताया कि 1553 वर्ग किलोमीटर क्षेत्र में फैला गंगोत्री नेशनल पार्क हिम तेंदुआ के लिए खास पहचान रखता है। इसके अलावा पार्क में भूरा भालू, काला भालू, भरल, अगराली भेड़ व लाल लोमड़ी सहित कई वन्यजीव विचरण करते हैं। दुनिया के पर्वतारोही भी गंगोत्री नेशनल पार्क स्थित विश्व प्रसिद्ध चोटियों के आरोहण के लिए आते हैं। शीतकाल में एक दिसंबर से लेकर 31 मार्च तक पार्क के गेट पर्वतारोही और सैलानियों के लिए बंद रहते हैं।

यह भी पढ़ें 👉  लोक सभा सामान्य निर्वाचन-2024-राज्य में अभी तक कुल 16 करोड़ से अधिक नकदी,शराब,सोना सहित अन्य सामान जब्त 

गंगोत्री नेशनल पार्क में वन्यजीवों की विविधता और सुंदरता को देखने के लिए विश्व भर से पर्यटक आते हैं। यहां की शानदार पर्वतीय दृश्य और शांत वातावरण आपको अपनी ओर खींच लेते हैं। यहां की यात्रा एक अद्वितीय और यादगार अनुभव होती है, जो प्रकृति प्रेमियों और फोटोग्राफी शौकियों के लिए एक स्वर्ग है।

गंगोत्री नेशनल पार्क का दौरा करने के लिए आवश्यक सभी सुविधाएं उपलब्ध हैं। पार्क में विभिन्न प्रकार के ट्रेल्स हैं, जो विभिन्न क्षमताओं और उम्र के लोगों के लिए उपयुक्त हैं। यहां के स्टाफ अत्यंत अनुभवी और जानकार हैं, और वे आपको पार्क के बारे में जानकारी प्रदान करने में सहायता कर सकते हैं।

यह भी पढ़ें 👉  Uttrakhand Loksabha chunav-(हल्द्वानी) जिन मतदाताओं के पास मतदाता फोटो पहचान पत्र (EPIC CARD) नहीं है,वह इन दस्तावेजों से दे सकते हैं वोट

यदि आप प्रकृति के करीब होना चाहते हैं और अपने आत्मा को शांत करना चाहते हैं, तो गंगोत्री नेशनल पार्क आपके लिए एक अद्वितीय स्थल है। यहां आपको प्रकृति की गोद में अपने आप को खोने का अवसर मिलेगा। यह एक ऐसी जगह है जहां आप अपनी रोजमर्रा की जिंदगी से दूर होकर, शांति और सुकून की खोज में जा सकते हैं।