पेट दर्द की शिकायत पर अस्पताल पहुंची जीएनएम का कोर्स कर रही किशोरी, बच्ची को दिया जन्म 

ख़बर शेयर करें -

उत्तराखंड के कुमाऊं में सनसनीखेज घटना सामने आई है। अल्मोड़ा के निजी संस्थान में जीएनएम का कोर्स रही किशोरी ने एक बच्ची को जन्म दिया है। वह पेट दर्द की शिकायत पर जिला अस्पताल पहुंची। जहां प्रसव पीड़ा उठने पर उसने बच्ची को जन्म दिया है। जच्चा-बच्चा को महिला अस्पताल में भर्ती कराया गया है। अस्पताल प्रबंधन ने इस मामले की जानकारी पुलिस को दी।

जानकारी के अनुसार मूल रूप से पिथौरागढ़ जिले की रहने वाली एक नाबालिग किशोरी अल्मोड़ा के निजी संस्थान से जीएनएम का कोर्स कर रही है। सोमवार की रात करीब साढ़े आठ बजे के आसपास वह पेट दर्द की शिकायत लेकर अपनी दो सहेलियों के साथ जिला अस्पताल पहुंची। इसी बीच वह अस्पताल के शौचालय की ओर गई तो उसे प्रसव पीड़ा होने लगी और वह जोर-जोर से चिल्लाने लगी। 

यह भी पढ़ें 👉  आदि कैलाश यात्रा- पिथौरागढ़ पहुंचा 12वां दल, यात्रियों ने ली शपथ

किशोरी के चीखने की आवाज सुन उसकी सहेलियों ने अस्पताल के कर्मचारियों से मदद मांगी और उसे उनकी मदद से वार्ड में ले जाया गया, जहां उसने ने एक बच्ची को जन्म दिया। जिला अस्पताल के पीएमएस डॉ. एचसी गड़कोटी ने बताया कि बच्ची को जन्म देने वाली किशोरी की उम्र आधार कार्ड के अनुसार महज 17 साल की है। उन्होंने बताया कि किशोरी और उसकी नवजात बच्ची को महिला अस्पताल में रखा गया है और दोनों की हालत ठीक है।

यह भी पढ़ें 👉  ग्राहकों को लेकर हुए विवाद में दुकानदार पर हमला, चाकू लगने से बेटे की मौत

 उन्होंने बताया कि किशोरी के नाबालिग होने के कारण इस मामले की जानकारी पुलिस को दी गई है। इधर कोतवाल जगदीश चंद्र देऊपा ने बताया कि अस्पताल प्रबंधन की तरफ से मामले की जानकारी पुलिस को दी गई है। अभी इस मामले में कोई लिखित तहरीर पुलिस को नहीं मिली है। उन्होंने बताया कि तहरीर मिलने के बाद मामले में आगे की कार्रवाई की जाएगी।