होली गायन में बोले सीएम धामी, काली कुमाऊं की खड़ी होली हमारी धरोहर

ख़बर शेयर करें -

चंपावत। मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी ने गौरलचौड़ मैदान में आयोजित होली मिलन कार्यक्रम में प्रतिभाग कर होली खेली। इस दौरान विभिन्न क्षेत्रों से आए होलियारों ने एक से बढ़कर एक होली गाई।

गुरुवार को मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी ने चंपावत में काली कुमाऊं की सुप्रसिद्ध खड़ी होली में प्रतिभाग कर होलियारों के साथ कदम से कदम मिलाकर खड़ी होली का गायन किया। होलियारों का उत्साह वर्धन करने के लिए मुख्यमंत्री धामी ढोल बजाते नजर आए। मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी ने कहा चंपावत जिले के पहाड़ी क्षेत्र में एकादशी पर्व पर चीर बन्धन के साथ शुरू होने वाली खड़ी होली की अपने आप में एक महत्वपूर्ण परंपरा रही है। यह हमारी धरोहर है। इसका हम सब ने मिलकर संरक्षण करना होगा। 

यह भी पढ़ें 👉  बड़ी खबर-(देहरादून) सामान्य निर्वाचन लोक सभा चुनाव दिनांक 19 अप्रैल,2024 को समस्त चिकित्सा ईकाइयों को खोले जाने के सम्बन्ध में अपडेट

उन्होंने कहा चंपावत काली कुमांउ की होली अपने आप में एक अलग पहचान रखती है। इस काली कुमांउ की विख्यात होली में सूबे के मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी ने भी कदम से कदम मिलाकर होली का खुब आनंद लिया। मुख्यमंत्री ने कहा कि पहाड़ की होली से उन्हे आज भी बहुत लगाव है। सीएम ने कहा कि चंपावत जिले को जल्द ही मॉडल जिले के रूप में आपको देखने को मिलेगा। कहा कि हर वर्ग के लोगों को साथ में लेकर सरकार कार्य कर रही है। जिले के साथ साथ उत्तराखंड में लगातार नए नए आयाम स्थापित कर रहा है।