दीदी भुली महोत्सव में सीएम ने देखा रॉक क्लाइम्बिंग तकनीकी का डेमो 

ख़बर शेयर करें -

उतरकाशी। मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी ने दीदी भुली महोत्सव में एनआईएम की रॉक क्लाइम्बिंग तकनीकी का डेमो देखा। इस दौरान एनआईएम के प्रशिक्षकों ने मुख्यमंत्री को सर्च एंड रेस्क्यू के दौरान उपयोग की जाने वाली तकनीकी की जानकारी दी।

मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी ने दीदी भुली महोत्सव में वन डिस्ट्रिक वन प्रोडक्ट में हाल ही में देश मे दूसरे स्थान का सम्मान पाने वाले लाल धान की जानकारी ली। इस दौरान महिलाओं ने मुख्यमंत्री को लाल धान की बाली भेंट की। मुख्यमंत्री ने महिलाओं के साथ लाल धान की कुटाई पारंपरिक ओखली में की। साथ ही लाल धान की चूड़ा की जानकारी ली। मुख्यमंत्री ने 240 करोड़ से अधिक लागत की योजनाओं का शिलान्यास व लोकार्पण किया। जिनमे उत्तरकाशी जिले के विकास के लिये 57 करोड़ 38 लाख की लागत की 24 योजनाओं का शिलान्यास करने के साथ ही 45 करोड़ 37 लाख की लागत की  38 योजना का लोकार्पण किया गया।

यह भी पढ़ें 👉  कृषि विभाग को मिले 67 कर्मचारी, मुख्यमंत्री धामी ने प्रदान किए नियुक्ति पत्र

इसके साथ ही मुख्यमंत्री ने यूजेवीएन लिमिटेड के तिलोथ विद्युतगृह के नवीनीकरण, उच्चीकरण एवं पुनरोद्धार (आर.एम.यू.) कार्यों का लोकार्पण भी किया गया। मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी ने दीदी भुली महोत्सव में शिरकत कर डुंडा और बगोरी क्षेत्र के पारंपरिक ऊन की कताई करने वाले चरखा को चलाया। इस दौरान मुख्यमंत्री ने करीब ऊन की कताई कर पारंपरिक ऊनी वस्त्रों को बढ़ावा देने का संदेश दिया। साथ ही डुंडा और बगोरी से पहुंची महिलाओं को चरखा चलाने और ऊन कताई की जानकारी ली।