पुलिस का नशे पर वार- चैकिंग के दौरान जीजा-साले सहित तीन गिरफ्तार, लाखों की स्मैक बरामद

ख़बर शेयर करें -

हल्द्वानी। मिशन ड्रग फ्री देवभूमि 2025 के तहत नैनीताल पुलिस ने बड़ी कार्यवाही की है। पुलिस ने 20 लाख की स्मैक के साथ जीजा-साले को गिरफ्तार किया है। आरोपी जीजा रोडवेज चालक बताया जा रहा है।

जानकारी देते हुए वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक प्रहलाद नारायण मीणा ने बताया कि मुख्यमंत्री द्वारा राज्य में नशे के विरूद्ध चलाये जा रहे *मिशन ड्रग फ्री देवभूमि-2025 को सार्थक करने की दिशा में जनपद में नशे के विरूद्ध चलाये जा रहे अभियान के तहत कोतवाल उमेश कुमार मलिक और एएनटीएफ प्रभारी बलवंत सिंह कंबोज की संयुक्त पुलिस टीम द्वारा हल्द्वानी के ट्रांसपोर्ट नगर के मोतिया तिराहे लाइन तिराहा के पास, गन्ना सेंटर क्षेत्र में बीती शाम को चैकिंग के दौरान 3 अभियुक्तों को मोटरसाइकिल में स्मैक की तस्करी करते हुए गिरफ्तार किया गया।

यह भी पढ़ें 👉  कांग्रेस की बढ़ती मुश्किलें- प्रदेश पदाधिकारी ने इस्तीफा देकर भाजपा की ज्वाइन

अभियुक्तों के कब्जे से पुलिस द्वारा 223 ग्राम स्मैक बरामद की गयी। पुलिस द्वारा गिरफ्तार अभियुक्त के विरुद्ध कोतवाली हल्द्वानी* में *एन०डी०पी०एस० एक्ट* के अंतर्गत अभियोग दर्ज किया गया।  पकड़े गए तस्करों में चरणजीत सिंह पुत्र सुच्चा सिंह निवासी दूधियानगर, वार्ड न० 04 रुद्रपुर, ऊधम सिंह नगर, मनीष कुमार पुत्र सेवा राम गंगवार निवासी बरगवां, रसूलपुर, बहेड़ी, बरेली यूपी, हाल निवासी सीएमडी कॉलोनी, देवलचौड़ हल्द्वानी और रिंकू कश्यप पुत्र ओम प्रकाश कश्यप निवासी नाथपुर अंगदराय, दातागंज, बदायूं यूपी बताए गए। इनके कब्जे से बाइक संख्या  UK06AY8693 भी बरामद की गई है। 

यह भी पढ़ें 👉  इस हाइवे पर पलटी यात्रियों से भरी बस,35 यात्री थे सवार

अभियुक्त स्मैक को दातागंज बदायूं यूपी से बिट्टू नाम के व्यक्ति से खरीदकर अधिक पैसे कमाने के लालच में हल्द्वानी शहर में बेचने के लिये ला रहे थे। मनीष और चरणजीत आपस में साला और जीजा हैं। मनीष हल्द्वानी रहता है जिसे आरोपी रिंकू बदायूं से स्मैक लेकर रुद्रपुर निवासी चरणजीत सिंह (जो रुद्रपुर से बदायूं की रोडवेज का चालक है) के साथ मिलकर स्मैक को हल्द्वानी लाते हैं और बेचते हैं। पुलिस टीम में उपरोक्त के अलावा टीपीनगर चौकी प्रभारी सुशील जोशी, कांस्टेबल नवीन राणा, नवीन कुमार, अमनदीप, अरविंद कार्की, राजेंद्र जोशी, सोनू सिंह शामिल रहे। पुलिस टीम के इस सराहनीय कार्य के लिए एसएसपी नैनीताल द्वारा 2,500  रुपए के नगद पुरस्कार देने की घोषणा की गई है।