दुःखद- सेना पर आतंकी हमला, उत्तराखंड के पांच जवान शहीद

ख़बर शेयर करें -

उत्तराखंड के लिए दुःखद खबर है। प्रदेश के पांच जवान जम्मू कश्मीर में आतंकी हमले में शहीद हो गए हैं। पांचों शहीदों की खबर गांव में पहुंचते ही घरों में कोहराम मच गया है। 

उत्तराखंड से शहीद होने वालों में मैं सूबेदार आनंद सिंह, हवलदार कमल सिंह, राइफलमैन अनुज नेगी, राइफलमैन आदर्श नेगी , नायक विनोद सिंह  शामिल हैं। देश की रक्षा करते हुए रुद्रप्रयाग जनपद के ग्राम कांडा भरदार के वीर सपूत नायब सूबेदार आनंद सिंह रावत शदीद हो गए।

यह भी पढ़ें 👉  Uttrakhand weather-मौसम का मिजाज बदला रहने के आसार,आज इन जिलों में भारी बारिश की संभावना,पढ़िये मौसम पूर्वानुमान

शदीद आनंद सिंह रावत 6 माह पूर्व अपने गांव छुट्टी पर आए थे। वह वर्तमान में जम्मू कश्मीर में तैनात थे। आनंद सिंह रावत का परिवार वर्तमान में देहरादून में रहते है।  उनके बड़े भाई और मां गांव में ही रहते है।

कोटद्वार के थाना रिखणीखाल क्षेत्रान्तर्गत ग्राम कर्तिया (नोदानु ) एवं तहसील रिखणीखाल पौड़ी गढ़वाल के कमल सिंह पुत्र स्व.केशर सिंह निवासी उपरोक्त तथा अनुज नेगी पुत्र भारत सिंह निवासी ग्राम -डोबरिया थाना व तहसील रिखणीखाल उपरोक्त दोनों जवान बीते दिन कठुआ   जम्मू कश्मीर में हुए आतंकवादी आत्मघाती हमले में शहीद हुए हैं।

यह भी पढ़ें 👉  सांसद की बैठक से अफसर नदारद, मांगा स्पष्टीकरण

जम्मू कश्मीर के कठुआ में हुए आतंकी हमले में कीर्तिनगर ब्लॉक के थाती डागर गांव निवासी 26 साल के राइफलमैन आदर्श नेगी शहीद हो गए हैं। उनके पिता दलबीर सिंह नेगी खेतीबाड़ी का करते हैं काम। वह 2018 में गढ़वाल राइफल्स में भर्ती  हुए थे। तीन भाई बहनों में आर्दश सबसे छोटे थे।

नई टिहरी के जाखणीधार ब्लाक के चौंड जसपूर के विनोद भंडारी (33) पुत्र वीर सिंह भंडारी जम्मू कश्मीर के कठुआ जिले में आतंकी हमले के दौरान शहीद हुये हैं। इनका परिवार भानियावाला में निवास करता है। डेढ़ माह पूर्व घर आये थे। इनकी पत्नी नीमा देवी हैं। माता का नाम शशि है। इनके एक चार वर्षीय पुत्र और तीन माह की बेटी है।