एसटीएफ/साइबर पुलिस टीम ने पॉलिसी व निवेश के नाम पर धोखाधड़ी करने वाले एक और गिरोह का किया पर्दा फाश-

ख़बर शेयर करें -

एसटीएफ/साइबर पुलिस टीम ने पॉलिसी व निवेश के नाम पर धोखाधड़ी करने वाले एक और गिरोह का किया पर्दा फाश।

देहरादून निवासी महिला के साथ गिरफ्तार अभियुक्त ने पॉलिसी व निवेश के नाम पर की लगभग 37 लाख रुपये की ऑनलाईन धोखाधडी।

संदिग्ध आरोपी को एसटीएफ/साइबर पुलिस टीम ने किया बहराईच उ0प्र0 से गिरफ्तार।

एक प्रकरण साइबर क्राईम पुलिस स्टेशन को प्राप्त हुआ जिसमें देहरादून निवासी शिकायतकर्ता के साथ अज्ञात व्यक्ति द्वारा स्वयं को SBI smart wealth builder policy का कर्मचारी बताकर पालिसी खुलवाने व खुलवाकर उसको गलत बताकर ठीक कराने के नाम पर व पालिसी की यूनिट वैल्यू पर अनेक लाभ का लालच देकर अलग-अलग तिथियो मे विभिन्न खातों में कुल 36,99,084.36/-रुपये (छत्तीस लाख निन्यानवे हजार चौरासी रुपये व छत्तीस पैसे) जमा कराकर धोखाधडी की गयी है। उक्त शिकायत के आधार पर साइबर क्राईम पुलिस स्टेशन देहरादून पर मु0अ0सं0 01/24 धारा 420,120 बी भादवि बनाम अज्ञात का अभियोग पंजीकृत किया गया तथा अभियोग की विवेचना विवेचना साइबर थाने में नियुक्त अपर उप निरीक्षक सुनील भट्ट के सुपुर्द की गयी।

यह भी पढ़ें 👉  दुःखद- वलसाड एक्सप्रेस की एक बोगी में ब्लास्ट होने से एक आरपीएफ जवान की मौत

अभियोग में अभियुक्त के विरुद्ध कार्यवाही हेतु गठित टीम द्वारा घटना में तकनीकी विश्लेषण से प्रकाश में आये अभियुक्त महेश कुमार वर्मा पुत्र कमला देवी पिता का नाम शिवकुमार निवासी भूपगंज बाजार, रुकनपुर, पो0 व थाना पयागपुर, जनपद बहराईच उ0प्र0 उम्र 25 वर्ष को बहराईच उ0प्र0 से किया गिरफ्तार।

अपराध का तरीकाः- अभियुक्त द्वारा अपने सहयोगियों के साथ मिलकर आम जनता को उनकी मेहनत की गाढी कमाई को ठगने के लिये उन्हें विश्वास में लेकर पॉलिसी खुलवाने व खुलवाकर उसको गलत बताकर ठीक कराने के नाम पर व पालिसी की यूनिट वैल्यू पर अनेक लाभ का प्रलोभन दिये जाने के नाम पर धोखाधडी की गयी तथा धोखाधडी से प्राप्त धनराशि को विभिन्न बैक खातो में प्राप्त कर उक्त धनराशि का प्रयोग करते है । अभियुक्तगण द्वारा उक्त कार्य हेतु विभिन्न मोबाईल हैण्डसेट, सिम कार्ड व फर्जी बैंक खातों का प्रयोग किया जाता है। कुछ पीडितों से एक मोबाईल फोन, सिम कार्ड व बैंक खाते का प्रयोग कर धोखाधड़ी करने के बाद इनके द्वारा नये सिम, मोबाईल हैण्डसैट व बैंक खातों का प्रयोग किया जाता है।

यह भी पढ़ें 👉  बिग ब्रेकिंग-इस लोकसभा सीट से इस भाजपा प्रत्याशी का निधन

गिरफ्तार अभियुक्तः-
1- महेश कुमार वर्मा पुत्र कमला देवी पिता का नाम शिवकुमार निवासी भूपगंज बाजार, रुकनपुर, पो0 व थाना पयागपुर, जनपद बहराईच उ0प्र0 उम्र 25 वर्ष

कुल बरामदगी-
1- 01 मोबाईल फोन मय 02 सिम कार्ड।
2- 01 आधार कार्ड।
3- 01 पैन कार्ड।
4- 01 एटीएम कार्ड।

पुलिस टीमः-
1-  अपर उप निरीक्षक सुनील भट्ट
2-  कॉन्स0 महेश उनियाल
3- कॉन्स0 सोहन बडोनी

वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक एस0टी0एफ0 उत्तराखण्ड  आयुष अग्रवाल द्वारा जनता से अपील की है कि ऑनलाईन जॉब हेतु किसी भी फर्जी वेबसाईट, मोबाईल नम्बर, लिंक आदि का प्रयोग ना करें। किसी भी प्रकार के ऑनलाईन जॉब हेतु आवेदन करने से पूर्व उक्त साईट का पूर्ण वैरीफिकेशन स्थानीय बैंक, सम्बन्धित कम्पनी आदि से भलीं भांति इसकी जांच पड़ताल अवश्य करा लें तथा गूगल से किसी भी कस्टमर केयर नम्बर सर्च न करें। कोई भी शक होने पर तत्काल निकटतम पुलिस स्टेशन या साइबर क्राईम पुलिस स्टेशन को सम्पर्क करें । वित्तीय साईबर अपराध घटित होने पर तुरन्त 1930 नम्बर पर सम्पर्क करें । इसके अतिरिक्त गिरफ्तारी के साथ-साथ साईबर पुलिस द्वारा जन जागरुकता हेतु अभियान के अन्तर्गत हैलीसेवा वीडियो साइबर पेज पर प्रेषित किया गया है।