आठ साल से चल रहे भूमि विवाद का आयुक्त के दरबार में हुआ निस्तारण

ख़बर शेयर करें -

हल्द्वानी। आयुक्त दीपक रावत द्वारा साप्ताहिक जनसुनवाई के अलावा भी प्रतिदिन लोगों की समस्याओं का निस्तारण किया जा रहा है। इसी क्रम में शुक्रवार को अल्मोडा निवासी पार्वती भण्डारी की 8 वर्ष पुरानी भूमि विवाद का मौके पर समाधान किया। 

   अल्मोड़ा मूल निवासी पार्वती भण्डारी पत्नी रमेश चन्द्र भण्डारी वर्तमान निवासी बडी मुखानी हल्द्वानी ने वर्ष 2016 में 1000 स्क्वायर फीट का प्लाट कुशाग्र हैबिटेट डेपलपर्स प्राइवेट लिमिटेड जसपुर उधमसिंह नगर में 5 लाख की धनराशि में क्रय किया था। कुशाग्र डेपलपर्स द्वारा उक्त प्लाट की रजिस्ट्री नही की गई। श्री भण्डारी ने बताया कि वर्ष 2016 से बार-बार बताने के बाद भी रजिस्ट्री नही की गई। गुरूवार को भण्डारी द्वारा भूमि विवाद के बारे में आयुक्त श्री रावत को अवगत कराया। 

यह भी पढ़ें 👉  रोडवेज बसों में दिव्यांगों को नहीं दी जा रही सीटें, आयुक्त ने दिए ये निर्देश

     आयुक्त श्री रावत ने तत्काल कार्यवाही करते हुये बिल्डर्स एवं स्थानीय राजस्व अधिकारियों को शुक्रवार को कार्यालय में तलब कर उक्त भूमि की रजिस्ट्री कराने के निर्देश दिये।  कुशाग्र बिल्डर्स द्वारा लिखित में बताया गया कि श्री भण्डारी के प्लाट की रजिस्ट्री 8 जुलाई को कर दी जायेगी। आयुक्त ने चेतावनी देते हुये कहा कि  8 जुलाई को रजिस्ट्री नही होने पर कुशाग्र बिल्डर्स के खिलाफ लैंडफ्रॉड में मुकदमा दर्ज किया जायेगा।