बिग ब्रेकिंग-एसटीएफ/साइबर थाने ने एक और राष्ट्रीय घोटाला लगभग 06 करोड़ मैं एक अभियुक्त को दिल्ली से किया गिरफ्तार

ख़बर शेयर करें -

🔸एसटीएफ/साइबर थाने ने एक और राष्ट्रीय घोटाला लगभग 06 करोड़ मैं एक अभियुक्त को दिल्ली से किया गिरफ्तार।
🔸गिरफ्तार अभियुक्त पर पूरे देशभर 74 मुकदमे एवं 1523 विभिन्न साइबर अपराधों में देश भर में आपराधिक तार है।
🔸संदिग्ध आरोपी की भारत के कई राज्य की पुलिस को तलाश थी।
🔸 पौड़ी गढवाल निवासी Ex-Service man के साथ फेसबुक पर विदेशी महिला की फर्जी आई0डी0 से दोस्ती कर गिफ्ट भेजने के नाम पर साईबर ठगों द्वारा फर्जी कस्टम क्लियरेंस के नाम पर की गयी थी लाखों की ऑनलाईन धोखाधडी।

एक प्रकरण साइबर क्राईम पुलिस स्टेशन को प्राप्त हुआ जिसमें जनपद पौड़ी गढवाल निवासी शिकायतकर्ता (Ex-Service man) के द्वारा फेसबुक पर कथित Sarah hunter नामक विदेशी महिला फेसबुक फ्रेंड से फेसबुक पर दोस्ती की गयी जिसके द्वारा खुद को UK से बताकर प्रलोभन देते हुये अपने ट्रेडिशन के अनुसार अपने जन्मदिन पर दोस्त को उपहार  भेजने की बात कहकर उपहार स्वरुप एक पार्सल भेजना बताया जिसके बाद शिकायतकर्ता को अज्ञात व्यक्ति द्वारा फोन कर खुद को कस्टम ऑफिसर बताकर पार्सल रीसिव करने हेतु पैसे भेजने की बात की गयी व logistic Director Mr. John से व्हाट्सएप नं0 पर बात करने को कहा गया तथा उक्त अज्ञात साईबर ठगों द्वारा विभिन्न टैक्स, क्लियरेंस, COT आदि के नाम पर शिकायतकर्ता से विभिन्न ट्रांजेक्शन के द्वारा कुल लगभग 42,35,453/- रुपये की धोखाधड़ी की गयी। उक्त शिकायत के आधार पर साइबर क्राईम पुलिस स्टेशन देहरादून पर मु0अ0सं0 03/24 धारा 420,120 बी भादवि व 66(डी) आईटी एक्ट बनाम अज्ञात का अभियोग पंजीकृत किया गया तथा विवेचना साइबर थाने के निरीक्षक  विजय भारती के सुपुर्द की गयी।
अभियोग में अभियुक्त के विरुद्ध कार्यवाही हेतु गठित टीम द्वारा घटना में तकनीकी विश्लेषण से प्रकाश में आये नॉर्थ ईस्ट मिजोरम निवासी अभियुक्त लालमुआकिमा पुत्र लालथानजुवाला निवासी H.No  C-14/B Kawnveng Durtlang, P.S. Bawangkawn, Aizawl, Mizoram को दिल्ली से किया गिरफ्तार।

यह भी पढ़ें 👉  Uttrakhand weather-इन पांच जिलों मे कहीं-कहीं गर्जन के साथ आकाशीय बिजली चमकने की चेतावनी

अपराध का तरीकाः-
अभियुक्तगणों द्वारा फेसबुक पर विदेशी महिला की फर्जी आई0डी0 बनाकर आम जनमानस को सोशल मीडिया प्लेटफॉर्म फेसबुक पर फ्रेण्ड रिक्वेस्ट भेजकर उनसे दोस्ती कर व विश्वास में लेकर उन्हें विदेश से गिफ्ट/पार्सल भेजने का प्रलोभन दिया जाता है, जिसके पश्चात उनके लिये भेजे गये गिफ्ट/पार्सल को छुडाने के लिये एयरपोर्ट से फर्जी कस्टम ऑफिसर बनकर फोन कर विभिन्न टैक्स, क्लियरेंस, COT आदि के नाम पर लाखों रुपयों की धोखाधडी को अंजाम दे दिया जाता है तथा धोखाधडी से प्राप्त धनराशि को विभिन्न बैक खातों में प्राप्त कर उक्त धनराशि का प्रयोग करते है । अभियुक्तगण द्वारा उक्त कार्य हेतु फर्जी बैंक खातों एवं सिम आईडी कार्ड का प्रयोग कर अपराध कारित किया जाता है ।

यह भी पढ़ें 👉  बिग ब्रेकिंग-SSP NAINITAL के कुशल नेतृत्व में नैनीताल पुलिस ने धर दबोची दिल्ली के बंटी-बबली की जोड़ी

इसके अतिरिक्त भारत सरकार I4C गृह मंत्रालय के सहयोग से अभियुक्त से बरामद विभिन्न बैंक खातों मोबाइल नंबरों का भी गहनता से विवेचना में विश्लेषण किया गया है जिसमें अभियुक्त के ऊपर 74 मुकदमे एवं 1523 आपराधिक लिंकेज (Criminal Linkages) जो देश के सभी राज्यों में एवं केंद्र शासित प्रदेशों में मिले |
अभियुक्त के ऊपर उत्तर प्रदेश में 11, तेलंगाना में 34, दिल्ली में 01, बिहार में 03, तमिलनाडु में 08, गुजरात में 03, हरियाणा में 02, कर्नाटक में 07, पश्चिम बंगाल में 01, छत्तीसगढ़ में 03, आंध्र प्रदेश में आदि मिलाकर के कुल 74 अभियोग मैं अभियुक्त वांछित है | उत्तराखण्ड राज्य में ही 21 मामलों में अभियुक्त की संलिप्तता पाई गई है |
गिरफ्तार अभियुक्तः-
1- लालमुआकिमा पुत्र लालथानजुवाला निवासी H.No  C-14/B Kawnveng Durtlang, P.S. Bawangkawn, Aizawl, Mizoram
कुल बरामदगी-
1- 03 मोबाईल फोन मय सिम कार्ड।
2- 10 सिम कार्ड
3- 11 पासबुक
4- 14 चैक बुक
5- 33 एटीएम कार्ड
6- 03 आधार कार्ड,
पुलिस टीमः-
1-  निरीक्षक विजय भारती
2-  उ0नि0 कुलदीप टम्टा
3-  अपर उ0नि0 सुरेश कुमार
4-कॉन्स0 शादाब अली