एन एस एस कैंप में हुई भारतीय साहित्य पर चर्चा………..

ख़बर शेयर करें -

चन्द्रशेखर जोशी
पी एन जी पी जी महाविद्यालय के राजकीय बालिका इंटर कालेज रामनगर में चल रहे एन एस एस कैंप में आज भारतीय साहित्य पर विशेष चर्चा हुई।कार्यक्रम की शुरुआत  प्राची बंगारी,हिमानी बंगारी द्वारा वीरेन डंगवाल की कविता हमारा समाज से हुई।कविता ने महिलाओं के जीवन और संघर्ष को केंद्रित कर कविता बेखौफ सुनाई।आशा ने सत्यजीत राय लिखित मुल्ला नसीरुद्दीन की कहानियां सुनाई।

इस सत्र के विशेष वक्ता रहे अंग्रेजी प्रवक्ता नवेंदु मठपाल। उन्होंने भारतीय साहित्य और साहित्यकारों पर विस्तार से बातचीत रखी,कहा साहित्यकारों में वे ही कालजई हुए जिन्होंने जनता के दुख,दर्द को अपने साहित्य।में स्थान दिया।आकांक्षा और गीतांजलि उप्रेती ने कैंप की रिपोर्ट रखी। ने कैंप इससे पहले प्रातकालीन सत्र में स्वयंसेवकों द्वारा कैंप प्रभारी डा ममता भदोला जोशी के नेतृत्व में मतदान की शपथ लेते हुए जागरूकता रैली निकाली गई।

यह भी पढ़ें 👉  Uttrakhand election- मुख्य निर्वाचन अधिकारी के 19 अप्रैल को विद्युत,पेयजल,स्वास्थ्य एवं लोक निर्माण विभाग से जुड़े कार्मिकों को अलर्ट रहने के दिये निर्देश

सांयकालीन सत्र में ज्योतिबा फुले के संघर्ष और शिक्षा पर उनके संघर्ष आधारित फिल्म देखी गई। साहित्य को लेकर विभिन्न प्रतियोगिताओं के विजेताओं को पुरुस्कृत भी किया गया।इस मौके पर आशा ,रहनुमा, हिमानी,तनुजा नेगी,भावना मनराल,हर्षिता बजाज,प्रियंका बंगारी,हिमानी त्रिपाठी मौजूद रहे।