‘अवे ऑल बोट्स’ राष्ट्रीय सुरक्षा और समुद्री ताकत के लिए महत्वपूर्णः राज्यपाल

ख़बर शेयर करें -

नैनीताल।  राज्यपाल लेफ्टिनेंट जनरल गुरमीत सिंह (से नि) ने सोमवार को एनसीसी ग्रुप मुख्यालय, नैनीताल द्वारा नैनी झील में आयोजित ‘‘अवे ऑल बोट्स’’ प्रतियोगिता का फ्लैग ऑफ किया। 

राज्यपाल ने स्वयं बोट में सफर कर इस प्रतियोगिता को देखा। उन्होंने इस प्रतियोगिता में विजेता नाविकों को पुरस्कृत किया। इस अवसर पर राज्यपाल ने कहा कि एनसीसी द्वारा इस कार्यक्रम के माध्यम से जिस प्रकार अपनी तैयारी, प्रशिक्षण और एक समन्वय का उदाहरण पेश किया है वह सराहनीय है। उन्होंने कहा कि ‘‘अवे ऑल बोट्स’’ राष्ट्रीय सुरक्षा और हमारी समुद्री ताकत के लिए जरूरी है और हमें हर वक्त चुनौती के लिए तैयार रहने के लिए प्रेरित करती है।

यह भी पढ़ें 👉  अल्मोड़ा अग्निकांड पर सीएम का कड़ा रवैया, अनुपालन की मांगी रिपोर्ट

गौरतलब है कि नौसेना के समुद्री जहाज़ों में रखी गई छोटी नौकाओं के द्वारा ही नौसैनिक समुद्र में उतर कर विभिन्न रणनीतिक कार्यवाहियों को अंजाम देते हैं। इन नौकाओं के उत्कृष्ट और प्रभावी संचालन का नौसेना में बहुत महत्व होता है। इसी को ध्यान में रखते हुए इस प्रतियोगिता का आयोजन किया गया था।

यह भी पढ़ें 👉  सनसनीखेज- चाकू से गला रेतकर किशोर की निर्मम हत्या, नदी में कूद गया हत्यारोपी

राज्यपाल ने कहा कि जिस प्रकार एनसीसी की बेटियों द्वारा अपनी क्षमता का प्रदर्शन किया गया वह उनकी असीमित प्रतिभा को दिखाती है। उन्होंने कहा कि एनसीसी अनुशासन, समर्पण और देश सेवा की भावना को जीवंत रखा है। उन्होंने कहा कि उत्तराखण्ड में एनसीसी उत्कृष्ट कार्य कर रही है और यहां के कैडेट्स का प्रशिक्षण, अनुशासन और जज्बा उच्च स्तर का है जिस पर हम सभी को गर्व है। इस अवसर पर राज्यपाल ने एनसीसी कैडेट्स और मुख्यालय के कर्मचारियों को भी सम्मानित किया।

यह भी पढ़ें 👉  गाड़ी के चालान पर भड़के दिल्ली निवासी पर्यटक दंपत्ति के खिलाफ पुलिस ने दर्ज किया मुकदमा

 कार्यक्रम में प्रथम महिला गुरमीत कौर, कमोडोर बल राजेश सिंह, ग्रुप कमाण्डर, ले0 कर्नल रोहिताश पंवार, कर्नल राजेश कौशिक, कमाण्डर एस नागराजन, ले0 कर्नल बीएस खण्डका, मुख्य प्रशासनिक अधिकारी  हरीश सिंह, बी के घिल्डियाल, जया नेगी, इस्रार बक्स, विवेक सिंह,  मयंक डिमरी, राजेन्द्र रावत, प्रेम सिंह, राकेश जोशी एवं अन्य कार्मिक और कैडेट उपस्थित रहे।