लोकसभा रिजल्ट- अबकी बार गठबंधन सरकार पर मिले नीतीश और चिराग, अब दिल्ली की तैयारी

ख़बर शेयर करें -

लोकसभा चुनाव 2024 के वोटों की गिनती संपन्न हो चुकी है। भाजपा 242 लोकसभा सीटें जीती है। बहुमत से 30 सीट दूर रह गई। वहीं उसकी सहयोगी पार्टियों जेडीयू ने 12 और टीडीपी ने 16 सीटें हासिल हुई हैं। 

 चिराग पासवान की लोजपा (रामविलास) ने अपनी सभी पांच सीटों पर जीत दर्ज की है। बीजेपी अपने दम पर तो सरकार बनाने से दूर रह गई, लेकिन एनडीए को पूर्ण बहुमत मिला है। लोकसभा के नतीजे सामने आने के बाद आज बैठकों का दौर है। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की अध्यक्षता में आज कैबिनेट की बैठक होगी।

यह भी पढ़ें 👉  Uttrakhand weather-तत्कालिक मौसम पूर्वानुमान,इन जिलों मे तीन घंटे का ऑरेंज अलर्ट

लोकसभा चुनाव के ये नतीजे विपक्ष के लिए भी खुशखबरी लेकर आया है। 10 सालों के बाद पहली बार कांग्रेस के प्रदर्शन में सुधार हुआ है। हालांकि 100 का आंकड़ा पार करने से चूक गई है। इंडिया गठबंधन ने जरूर 200 का आंकड़ा पार कर लिया है। उसे 231 सीटों पर जीत मिली है। कांग्रेस को 98, समाजवादी पार्टी को 36, तृणमूल कांग्रेस को 29, डीएमके को 22 और शिवसेना यूबीटी को नौ सीटें मिली हैं।

बीजेपी ने सबसे खराब प्रदर्शन अपने गढ़ उत्तर प्रदेश में ही किया है। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को वाराणसी सीट पर अब तक की सबसे छोटी जीत मिली है। अमेठी लोकसभा सीट पर स्मृति इरानी को कांग्रेस कैंडिडेट किशोरी लाल शर्मा के हाथों करारी हार झेलनी पड़ी है। राहुल गांधी ने रायबरेली और वायनाड दोनों ही सीटों पर शानदार जीत दर्ज की है। 

यह भी पढ़ें 👉  बड़ी खबर-उत्तराखंड बोर्ड हाईस्कूल और इण्टरमीडिएट की परीक्षाफल सुधार परीक्षा कार्यक्रम धोषित

गृह मंत्री अमित शाह, मध्य प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान सरीखे नेताओं ने शानदार जीत दर्ज की है। नतीजों से पहले ज्यादातर एग्जिट पोल बीजेपी की अगुआई वाले एनडीए गठबंधन को जबरदस्त बहुमत दे रहे थे। वहीं कांग्रेस का दावा किया था कि वह कम से कम 295 सीटों पर जीत रही है।

यह भी पढ़ें 👉  प्रॉपटी डीलर की हत्या के विरोध में सड़क पर उतरे लोग, जाम

इधर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी राष्ट्रपति भवन पहुंचे हैं। माना जा रहा है कि वह आज ही इस्तीफा सौंप सकते हैं। दरअसल, मोदी कैबिनेट ने 17वीं लोकसभा भंग करने की सिफारिश कर दी है। ऐसे में जब लोकसभा भंग हो जाएगी तो पीएम को अपने पद से इस्तीफा देना पड़ता है। आज सुबह ही मोदी कैबिनेट ने 17वीं लोकसभा भंग करने की सिफारिश की। सूत्रों का कहना है कि पीएम मोदी प्रधानमंत्री के रूप में 8 जून को शपथ ले सकते हैं।