केदारनाथ धाम पैदल मार्ग में हुक्काबाजी कर रहे युवकों को रुद्रप्रयाग पुलिस ने सिखाया मर्यादा का पाठ

ख़बर शेयर करें -

जनपद में प्रचलित श्री केदारनाथ धाम यात्रा अपने चरम पर है। एक माह की समयावधि में तकरीबन सवा आठ लाख से अधिक श्रद्धालु अब तक धाम में पहुंच चुके हैं। यहां पर देश-विदेश से आने वाला श्रद्धालु अपार श्रद्धा, भक्ति को लेकर श्री केदार के दर्शन करने हेतु आ रहे हैं।

परन्तु कुछ ऐसे भी हैं कि ठीक इसके इसके विपरीत श्रद्धालु के वेश में आकर कहीं पर भी हुड़दंग मचाकर नशे/शराब इत्यादि का सेवन कर श्रद्धालुओं के साथ अभद्र व्यवहार कर अपने कृत्यों से देवभूमि का माहौल खराब कर रहें हैं। जिससे श्रद्धालुओं के साथ स्थानीय लोगों की भी धार्मिक भावनाएं आहत हो रही हैं।

यह भी पढ़ें 👉  रोडवेज बसों में दिव्यांगों को नहीं दी जा रही सीटें, आयुक्त ने दिए ये निर्देश

ऐसी स्थिति से निपटने के लिए पुलिस अधीक्षक रुद्रप्रयाग के निर्देशन में रुद्रप्रयाग पुलिस के स्तर से “ऑपरेशन मर्यादा” चलाया हुआ है। जिसके तहत केवल केदारनाथ धाम ही नहीं अपितु वहां तक पहुंचने के सड़क या पैदल मार्ग पर भी पुलिस अपनी सतर्क दृष्टि रखे हुए है।


चौकी भीमबली क्षेत्रान्तर्गत यात्रा पैदल मार्ग पर श्री केदारनाथ यात्रा पर आये अरुण, पुत्र मोहन लाल, निवासी ग्रेटर नोएडा उत्तर प्रदेश, उम्र 19 वर्ष अपने 04 साथियों के संग आया हुआ था जिसके द्वारा भीमबली हैलीपेड में खुलेआम हुक्का पीकर वीडियोग्राफी एवं फोटोग्राफ्स लिए जा रहे थे।

यह भी पढ़ें 👉  Uttrakhand weather-मौसम का मिजाज बदला रहने के आसार,आज इन जिलों में भारी बारिश की संभावना,पढ़िये मौसम पूर्वानुमान

जिस पर चौकी प्रभारी भीमबली अपर उपनिरीक्षक यशपाल सिंह के नेतृत्व में भीमबली पुलिस ने इनका हुक्का जब्त कर इनके  विरुद्ध कोटपा अधिनियम के तहत चालानी कार्यवाही कर इनको मर्यादा का पाठ पढ़ाया गया। इनके द्वारा अपने कृत्य की माफी मांगते हुए भविष्य में इस प्रकार की गलती न करने का आश्वासन दिया गया।

अत्यधिक श्रद्धालुओं की बढ़ती भीड़ के बीच कुछ ऐसे असामाजिक तत्व आ ही जा रहे हैं जिनके इस प्रकार के कृत्यों से श्री केदारनाथ धाम के दर्शन हेतु आए अन्य श्रद्धालुओं की धार्मिक भावनाएं भी आहत हो रही हैं। ऐसे अराजक तत्वों के विरुद्ध पुलिस के स्तर से आवश्यक कार्यवाही की जा रही है।

यह भी पढ़ें 👉  फाईनेंस कंपनी के मैनेजर ने डीलरों को लगा दिया लाखों का चूना, ये है मामला

सभी से अपील है कि सदाचरण बनाये रखें व केदारनाथ धाम की पवित्रता व मर्यादा को बनाये रखें।