बड़ी खबर-UKPSC ने इस भर्ती परीक्षा को लेकर दी बड़ी अपड़ेट,देखें

ख़बर शेयर करें -

‘उत्तराखण्ड सम्मिलित राज्य सिविल / प्रवर अधीनस्थ सेवा परीक्षा-2021′

एतद्वारा सूचित किया जाता है कि उत्तराखण्ड सम्मिलित राज्य सिविल / प्रयर अधीनस्थ सेवा परीक्षा-2021′ हेतु प्रकाशित विज्ञापन संख्या A-1/E-1/PCS-2021/2021-22 दिनांक 10 अगस्त, 2021, अतिरिक्त विज्ञापन/शुद्धि-पत्र दिनांक 07 दिसम्बर, 2021 एवं शुद्धि पत्र दिनांक 12 जनवरी, 2022 को सापेक्ष दिनांक 23 से 26 फरवरी, 2023 तक सम्पन्न मुख्य परीक्षा का परिणाम विज्ञप्ति संख्या: 186/11/PCM(M)-21/G-1/2023-24 दिनांक 27 फरवरी 2024 एवं विज्ञप्ति संख्या

01/11/PCM(M)-21/G- 1/2023-24 दिनांक 05 अप्रैल, 2024 द्वारा जारी किया गया है, जिसके माध्यम से कुल 902 (889+13) अभ्यर्थियों को औपबन्धिक रूप से सफल घोषित किया गया है। उक्त अभ्यर्थियों में से समेकित पद एवं विशेष अर्हता वाले पदों के सापेक्ष सफल कुल 96 अभ्यर्थियों का चतुर्थ चरण में साक्षात्कार उत्तराखण्ड लोक सेवा आयोग,हरिद्वार में दिनांक 25 जून से 02 जुलाई, 2024 तक निर्धारित है।

यह भी पढ़ें 👉  शासन की बड़ी कार्रवाई- रिश्वत लेने के वीडियो मामले में वन विभाग के दो अधिकारी निलंबित

2 अभ्यर्थियों का अनुक्रमांकवार एवं तिथिवार साक्षात्कार कार्यक्रम, साक्षात्कार ज्ञाप आयोग की वेबसाईट psc.uk.gov.in पर उपलब्ध है। अभ्यर्थी निर्धारित तिथि को साक्षात्कार कार्यक्रम में उल्लिखित समयानुसार मूल अभिलेखों एवं साक्षात्कार शुल्क के साथ साक्षात्कार हेतु उपस्थित होना सुनिश्चित करें। अभ्यर्थियों को पृथक से डाक द्वारा साक्षात्कार ज्ञाप प्रेषित नहीं किये जायेंगे।

यह भी पढ़ें 👉  दुःखद- बोलेरो वाहन खाई में समाया, दो की मौत

3. मुख्य परीक्षा में सफल एवं साक्षात्कार हेतु अर्ह अभ्यर्थियों के अगले चरण की तिथिवार साक्षात्कार कार्यक्रम की सूचना दैनिक समाचार पत्रों एवं आयोग की वेबसाइट की माध्यम से पृथक से प्रसारित की जायेगी।

4. प्रश्नगत मुख्य परीक्षा के परिणाम में साक्षात्कार हेतु औपबन्धिक रूप से सफल घोषित अभ्यर्थियों में से विज्ञापन की शर्तानुसार विभिन्न कारणों से अनर्ह एवं अभ्यर्थन निरस्त किये गये अभ्यर्थियों की सूची भी आयोग की वेबसाईट psc.uk.gov.in पर प्रसारित कर दी गयी है। अभ्यर्थी उक्त सूची का आयोग की वेबसाईट पर अवलोकन अवश्य कर लें। अनर्ह घोषित अभ्यर्थियों को अपना प्रत्यावेदन दिनांक 21 जून, 2024 (शुक्रवार) तक आयोग कार्यालय में पुष्ट साक्ष्य सहित प्रस्तुत करना आवश्यक होगा। उक्त तिथि के पश्चात् किसी भी माध्यम से प्राप्त प्रत्यावेदन पर आयोग द्वारा विचार नहीं किया जाएगा।

यह भी पढ़ें 👉  हल्द्वानी मेडिकल कॉलेजों को मिली इतनी मेडिकल फैकल्टी, मिलेंगे ये लाभ