बोले मुख्यमंत्री- संपत्ति को नुकसान पहुंचाने वालों से ही होगी नुकसान की वसूली

ख़बर शेयर करें -

हल्द्वानी। मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी ने शुक्रवार को काठगोदाम रोडवेज बस टर्मिनल, आरटीओ कार्यालय व अन्य कार्यों के 778.14 करोड़ के शिलान्यास व लोकार्पण किया। कहा कि देवभूमि का मूल स्वरूप किसी भी कीमत पर बिगड़ने नहीं दिया जायेगा।

उन्होंने कहा कि बनभूलपुरा घटना को अंजाम देने वाले एक-एक दंगाई को जब तक सलाखों के पीछे नहीं डाल दिया जाता, तब तक हमारी सरकार चैन से नहीं बैठेगी। जिन लोगों ने कानून के काम को रोकने का कार्य किया है जो भी दोषी होगा उनके खिलाफ जांच होगी। उन्होंने कहा कि प्रदेश में जिन लोगों ने सरकारी सम्पत्ति को नुकसान पहुंचाया है वसूली भी उन्ही दंगाईयों से होगा। उन्होंने कहा कि हल्द्वानी में रोडवेज बस टर्मिनल, आरटीओ कार्यालय, ड्राइविंग सेंटर सहित यह निर्माण कार्य कई साल पहले तैयार हो जाने चाहिए थे, लेकिन सरकार द्वारा तमाम ऐसे कार्य किये जा रहे हैं, जो पूर्व की सरकारों ने इच्छाशक्ति की कमी के कारण नहीं किए। आज यह पुनीत कार्य मां शीतला देवी की कृपा से उनके द्वारा किया जा रहा है।

यह भी पढ़ें 👉  सामान्य लोक सभा निर्वाचन 2024 के मध्यनजर जनपद के विभिन्न थाना क्षेत्रों में भारी वाहनों का प्रवेश तीन दिवस तक पूर्णतया रहेगा प्रतिबंधित

मुख्यमंत्री श्री धामी ने कहा कि देवभूमि जैसे पवित्र स्थान पर लंबे समय से सरकारी भूमि पर लैंड जिहाद का खतरनाक षड़यंत्र रचा जा रहा है। सिंचाई विभाग, वन विभाग, नगर निगम सहित अन्य विभागों की सरकारी भूमि पर कब्जे की नीयत से कथित धार्मिक स्थल बनाकर उन्हें कब्जाया जा रहा था। सरकार द्वारा अतिक्रमण मुक्त अभियान चलाकर लगभग 3500 एकड अधिक भूमि से अतिक्रमण मुक्त कराया है। उन्होंने कहा कि देवभूमि में अतिक्रमण अभियान भविष्य में भी चलता रहेगा।

यह भी पढ़ें 👉  चुनाव प्रचार के अंतिम दिन सतपाल महाराज पीरुमदारा में भाजपा प्रत्याशी अनिल बलूनी के पक्ष मे रैली को करेंगे संबोधित

श्री धामी ने  कहा सरकार जनता का दुःख-दर्द समझती है सरकार द्वारा व्यापारियों हेतु वैडिंग जोन बनाये जा रहे है। उन्होंने कहा कि सरकार द्वारा लैंड जिहाद पर कार्यवाही, नकल विरोधी कानून, समान नागरिक संहिता और धर्मांतरण को लेकर बनाए गए कानूनों पर कुछ लोगों द्वारा काफी बोला गया, लेकिन इनके परिणाम आने के पश्चात लोग कानूनों की  सच्चाई से रूबरू होकर आज कहा रहे हैं कि देवभूमि में वर्षो के पश्चात अच्छा हो रहा है।