नन्दाष्टमी पर मां नंदा-सुनंदा की मूर्तियों की हुई प्राण प्रतिष्ठा, दर्शनों को उमड़े भक्त

ख़बर शेयर करें -

नैनीताल। श्री नंदा देवी महोत्सव 2023 में नन्दाष्टमी पर मां-नंदा सुनंदा के दर्शनों को भक्तों का सैलाब उमड़ पड़ा। रविवार को ब्रह्म मुहूर्त में मां नंदा-सुनंदा की मूर्ति की प्राण प्रतिष्ठा मां नयना देवी मंदिर में की गई। पदम श्री अनूप साह सपत्नीक पूजा में शामिल हुए। नंदा सुनंदा की जय जय कार के साथ पूरा नगर नंदा मय हो गया।

नन्दाष्टमी पर सीधे प्रसारण के माध्यम से पंडित भगवती प्रसाद जोशी ने धार्मिक महत्व बताया। डॉक्टर नवीन जोशी ने सामाजिक, आर्थिक, धार्मिक पक्ष को रखा। कमलेश ढौंडियाल ने कुमाऊंनी भाषा पर बातचीत की। जबकि डिंपल जोशी ने भजन, लता कुंजवाल शीला जोशी, मीनू जोशी ने शगुन आखर सुनाए तथा संस्कृति के साथ इनका मेल बताया। नवीन बैगाना, संजय के संगीत के साथ संतोष पांडे, अंकिता मेहरा ने भजन प्रस्तुत किया। लोकपरमपरी कलाकार बृज मोहन जोशी ने संस्कारों पर बातचीत की और परंपराओं के साथ गीतों को गुन गुनाया। संचालन हेमंत बिष्ट, प्रो. ललित तिवारी, मुकेश जोशी नवीन पांडे, मीनाक्षी कीर्ति, दिव्या साह ने किया।

यह भी पढ़ें 👉  Uttrakhand weather-तत्कालिक मौसम पूर्वानुमान,कुछ जिलों मे आरेंज तो कुछ जिलों मे येलो अलर्ट,पढ़िये मौसम अपडेट

पंच आरती में न्यायमूर्ति शरद शर्मा एवं रवींद्र मैथानी सपत्नीक तथा विधायक सरिता आर्य शामिल हुई। सरिता आर्य ने अपने संबोधन में उत्तराखंड वासियों को सबको बधाई दी तथा उनके सुख समृद्धि की कामना की। पंच आरती के बाद हलवे का प्रसाद वितरित किया गया। महोत्सव को सफल करने में गिरीश जोशी मनोज साह, अशोक साह, जगदीश बावड़ी, बिमल चौधरी, बिमल साह, राजेंद्र बिष्ट, प्रो. ललित तिवारी, राजेंद्र लाल साह, देवेंद्र लाल साह, मुकुल जोशी, ललित साह, भुवन बिष्ट, भीम सिंह कार्की, मिथिलेश पांडे, मुकुल जोशी, दीप्ति बोरा, मुकेश जोशी, कमलेश ढौंडियाल, मोहित साह, हरीश राणा, डॉक्टर मोहित सनवाल, आनंद बिष्ट आदि शामिल रहे।