बिग ब्रेकिंग-नैनीताल पुलिस का सभी से अनुरोध कि पहचान छिपा कर जो भी फेक वीडियो प्रसारित किए जा रहे हैं कृपया इन्हें शेयर एवम कमेंट करने से बचें

ख़बर शेयर करें -

हल्द्वानी। बनभूलपुरा में हिंसा को लेकर सोशल मीडिया में प्रसारित हो रही महिलाओं से अभद्र व्यवहार संबंधी वीडियो का पुलिस ने संज्ञान लिया है। पुलिस ने इसे अफवाह बताया है। कहा है कि दस तरह के लोगों पर कार्रवाई की जाएगी।

पुलिस का कहना है कि सोशल मीडिया में कुछ समुदाय विशेष के लोगों द्वारा एक वीडियो प्रचारित कर पुलिस द्वारा कुछ महिलाओं से अभद्र व्यवहार की शिकायत की जा रही है। इस मामले में पुलिस द्वारा जो भी कार्यवाही की गई है वह सीआरपीसी के प्रावधानों के अनुसार की गई है तथा महिलाओं से पूछताछ महिला पुलिस कर्मियों द्वारा ही की गई है। किसी भी महिला से पुलिस कर्मचारियों द्वारा किसी भी प्रकार का दुर्व्यवहार नहीं किया गया है।

यह भी पढ़ें 👉  महिला के साथ ऑनलाईन पार्ट टाइम जॉब के नाम पर 13 लाख से अधिक रूपये की धोखाधडी के गिरोह का एसटीएफ ने किया पर्दाफाश

यदि कोई भी उक्त मामले में शिकायत करना चाहता है तो वह स्वयं या अपने प्रतिनिधि के माध्यम से इसकी शिकायत एसएसपी कार्यालय हल्द्वानी में कर सकता है। यह भी स्पष्ट किया जाता है कि पहचान छिपाकर झूठ एवं बेमुनियाद आरोप लगाकर वीडियो पोस्ट कर पुलिस/ राज्य सरकार के खिलाफ झूठी अफवाह फैलाने वालों के विरूद्ध पुलिस द्वारा सख्त से सख्त वैधानिक कार्यवाही अमल में लाएगी। आप सभी से अनुरोध है कि पहचान छिपा कर जो भी फेक वीडियो प्रसारित किए जा रहे हैं कृपया इनको शेयर एवम कमेंट करने से बचें।

यह भी पढ़ें 👉  बैशाखी पर्व पर श्रद्धालुओं ने पवित्र नदियों में स्नान कर पुण्य किया अर्जित 

वहीं पुलिस महानिरीक्षक पी/एम और प्रवक्ता नीलेश आनन्द भरणे ने बनभूलपुरा हिंसा में महिलाओं के साथ अभद्रता संबंधी वीडियो का पूरी तरह खंडन किया है। उन्होंने कहा है कि इस तरह की कोई घटना नहीं हुई है। कहा कि उत्तराखंड पुलिस मित्र पुलिस के अपने ध्येय पर बहुत गर्व करती है। कर्तव्यों के निर्वहन के दौरान हम कानून का पालन करने वाले सभी नागरिकों विशेषकर महिलाएं और बच्चे के साथ शिष्टाचार, स्नेह और सम्मान का व्यवहार करते हैं।