चौकीदार ने वन दरोगा बन महिला आरक्षी से की सगाई, फिर बनाया हवस का शिकार

ख़बर शेयर करें -

उत्तराखंड की राजधानी दून में एक हैरान कर देने वाला मामला प्रकाश में आया है। यहां उपनल के तहत वन विभाग में चौकीदार ने महिला आरक्षी को झांसा देकर सगाई कर ली। आरोप है कि उसने खुद को वन दरोगा बताया और महिला आरक्षी से दुष्कर्म करता रहा। सच्चाई पता चलने पर महिला आरक्षी ने पुलिस की शरण ली। पुलिस ने मुकदमा दर्ज कर आरोपी को गिरफ्तार कर लिया है। 

मामला नेहरू कॉलोनी थाना क्षेत्र की है। वन विभाग में बतौर आरक्षी तैनात महिला ने शिकायत की है। महिला के मुताबिक उसकी पहचान ललित बिष्ट उर्फ शुभम निवासी श्यामपुर राणा चौक प्रेमनगर से हुई थी। शुभम ने पीड़िता को बताया कि वह वन विभाग में दरोगा है। दोनों में दोस्ती हो गई। इसके बाद एक-दूसरे से शादी का वादा किया। 

यह भी पढ़ें 👉  उत्तराखंड लोक सेवा की ओर से इन पदों पर जल्द होगी भर्ती

पीड़िता ने इस बारे में अपने परिजनों को बता दिया। दोनों की 15 अप्रैल 2023 में सगाई भी हो गई। इसके बाद आरोपी अक्सर पीड़िता के घर आता रहा। इस दौरान उसने महिला आरक्षी से कई बार दुष्कर्म भी किया। महिला का आरोप है कि शुभम ने उसके साइन किए हुए चेक चोरी कर बैंक से 1.50 लाख रुपये भी निकाल लिए। महिला आरक्षी ने जब शादी के लिए कहा तो उसने साफ इन्कार कर दिया। 

यह भी पढ़ें 👉  सस्ता सोना दिलाने के नाम पर लाखों की ठगी करने वाले दो शातिर गिरफ्तार

महिला आरक्षी ने जब उसके बारे में जानकारी जुटाई तो पता चला कि आरोपी शुभम तो वन विभाग में संविदा के माध्यम से चौकीदार की नौकरी कर रहा है। एसओ नेहरू कॉलोनी मोहन सिंह ने बताया कि आरोपी के खिलाफ मुकदमा दर्ज कर उसे गिरफ्तार कर लिया है। आरोपी को न्यायालय में पेश किया गया, जहां से उसे 14 दिन की न्यायिक हिरासत में जेल भेज दिया गया है।