कोरोना काल से संचालित एक्सप्रेस ट्रेनें पैसेंजर में हुई तब्दील, किराये में कटौती

ख़बर शेयर करें -

हल्द्वानी। लोकसभा चुनाव से पहले केंद्र सरकार ने रेल यात्रियों को तोहफा देने का काम किया है। सरकार ने कोरोना काल से एक्सप्रेस ट्रेन के रूप में चल रही पैसेंजरों ट्रेनों को वापस पैसेंजर ट्रेन का रूप दे दिया है। इससे अब रेल किराये में कमी आ गई है।

 रेलवे के अनुसार लालकुआं से बरेली तक ट्रेन का किराया 3 दिन पहले 45 रुपए था, वह घटकर अब 25 रूपये हो गया है। जबकि लालकुआं से बाजपुर का किराया 30रूपये से घटकर 10 रूपये, काशीपुर का 35 से घटकर 20 रूपये, लालकुआं से काठगोदाम का किराया 30 से घटकर 10 रूपये तथा कासगंज का पूर्व में जो किराया 75 रुपए वसूला जाता था, वह घटकर अब 45 रूपये हो गया है।

यह भी पढ़ें 👉  बिग ब्रेकिंग-चोरी की 06 मोटरसाइकिलों के साथ दो मोटरसाइकिल चोर गिरफ्तार

इसी तरह से पीलीभीत का किराया 50 से 25रूपये, वहीं रामनगर का किराया लालकुआं से 45 रुपए जो पहले कोरोना काल के बाद से लिया जाता था, वह घटकर अब 25 रूपये रह गया है। रेलवे के इस बड़े निर्णय से अब पैसेंजर ट्रेन में यात्रा करने वाले यात्रियों को बड़ी राहत मिली है। रेलवे के अनुसार लालकुआं से जो 8 ट्रेन एक्सप्रेस ट्रेन के रूप में अप डाउन किया करती थी, वह वापस पैसेंजर ट्रेन के रूप में चल रही है।