बिल्डर साहनी आत्महत्या मामला- कई फार्मों ने बिना अनुबंध के किया करोड़ों का ट्रांजैक्शन 

ख़बर शेयर करें -

उत्तराखंड के दून में हुए सत्येंद्र साहनी सुसाइड केस की विवेचना के दौरान कई फार्मो द्वारा करोड़ों का ट्रांजैक्शन बिना अनुबंध के किया जाना प्रकाश में आया है। प्रकाश में आई कई कंपनियों को कारण बताओ नोटिस भेजा जा रहा है।

थाना राजपुर में पजीकृत मुकदमा अपराध संखया 119/ 24 धारा: 306/385/420/120 बी भादवि बनाम अनिल कुमार गुप्ता व अजय कुमार गुप्ता के केस में विवेचना के दौरान प्रकाश मे आया कि सत्येंद्र साहनी (मृतक) की कंपनियों में कई फार्मो द्वारा करोड़ों का ट्रांजैक्शन बिना अनुबंध किया गया। 05 कंपनियों व 01 व्यक्ति को पुलिस द्वारा  कारण बताओं नोटिस भेजा जा रहा है। 

यह भी पढ़ें 👉  हल्द्वानी में खड़ी कारों में जा लगी आग, अफरा-तफरी का माहौल

प्रकरण की विवेचना के दौरान प्रकाश में आया कि अवनी परिधि एनर्जी कम्युनिकेंट कंपनी , विजेता वेबरेजर्स कंपनी , सुरपाल पब्लिसिटी प्राइवेट लिमिटेड कंपनी, इनवी होल्डिंग प्राइवेट लिमिटेड कंपनी, अर्जुन सिंह जोहाल कंपनी व एनवी डिजिटलरीज एंड और ब्रीफेरिस प्राइवेट लिमिटेड कंपनी से मृतक सतेन्द्र सिंह साहनी की कंपनी साहनी स्ट्रक्चर्स एलएलपी व साहनी इंफ्रा एलएलपी में प्रोजेक्ट हेतु  30 करोड़ 95 लाख रूपए का ट्रांजैक्शन हुआ है।

यह भी पढ़ें 👉   दुःखद- एक युवक को बचाने के प्रयास में दूसरा भी डूबा, हुई मौत

 जबकि उक्त कंपनियों का मृतक के साथ प्रोजेक्ट डील में किसी भी प्रकार से कोई भी अनुबंध होना नहीं पाया गया है। जिस संबंध में उक्त कंपनियों को इन ट्रांजैक्सन के संबंध में विवरण प्राप्त किए जाने हेतु नोटिस भेजे जा है। विवेचना जारी है।