संदिग्ध हालात में फांसी के फंदे में झूल गई छात्रा, मचा कोहराम

ख़बर शेयर करें -

 रूड़की। 11वीं कक्षा की छात्रा का शव घर में ही फांसी के फदे में लटका मिला। उसे परिजनों के साथ स्कूल जाना था, लेकिन उससे पहले ही उसने यह कदम उठा लिया। पुलिस ने शव को पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया है। पुलिस आत्महत्या के कारणों का पता लगाने का प्रयास कर रही है। इसके लिए स्कूल प्रबंधन और परिजनों से जानकारी जुटा रही है।

सिविल लाइंस कोतवाली प्रभारी आरके सकलानी ने बताया कि बृहस्पतिवार शाम करीब तीन बजे गंगनहर कोतवाली पुलिस ने सूचना दी कि सिविल अस्पताल में एक छात्रा का शव आया है। उसने फंदा लगाकर आत्महत्या की है। इस पर महिला दरोगा करुणा रौंकली ने सिविल अस्पताल में पहुंचकर छात्रा का पंचनामा करते हुए शव को पोस्टमार्टम के लिए भेजा। कोतवाली प्रभारी ने बताया कि लड़की कक्षा 11 की छात्रा थी। छात्रा का भाई भी उसके साथ ही पढ़ता था।जांच में पता चला कि स्कूल की ओर से दोपहर दो बजे के बाद छात्रा को अभिभावक के साथ स्कूल में बुलाया गया था। छात्रा के पिता ने स्कूल जाने के लिए उसे आवाज लगाई लेकिन उसने कोई जवाब नहीं दिया। पिता ने अंदर जाकर देखा तो छात्रा ने घर के रोशनदान से दुपट्टा डालकर फंदा लगा रखा था। छात्रा के आत्महत्या के कारणों का पता नहीं लग पाया है। मामले में स्कूल प्रबंधन और छात्रा के परिजनों से जानकारी जुटाई जा रही है।