रोडवेज बस में ले जाई जा रही थी चरस की खेप, चैकिंग में पुलिस और एसओजी ने पकड़ा

ख़बर शेयर करें -

चंपावत। यहां पुलिस के हाथ बड़ी सफलता लगी है। पुलिस ने नशामुक्त उत्तराखण्ड अभियान 2025 के क्रम में चम्पावत क्षेत्र अंतर्गत लगभग चार किलोग्राम चरस के साथ एक अभियुक्त को गिरफ्तार किया है।

 मुख्यमन्त्री उत्तराखण्ड सरकार द्वारा वर्ष 2025 तक उत्तराखण्ड प्रदेश को नशामुक्त उत्तराखण्ड बनाये जाने हेतु दिये गये निर्देशों के क्रम में जनपद चम्पावत में पुलिस अधीक्षक देवेन्द्र पींचा के निर्देशानुसार तथा क्षेत्राधिकारी चम्पावत/टनकपुर/ऑपरेशन के पर्यवेक्षण में जनपद चम्पावत में मादक पदार्थों की तस्करी की रोकथाम हेतु चलाए जा ऑपरेशन क्रैक डाउन के क्रम में बीती रात जनपद चम्पावत के कोतवाली चम्पावत क्षेत्रान्तर्गत एसओजी, एचपीयू व कोतवाली चम्पावत पुलिस टीम की संयुक्त कार्यवाही में ग्राम धौन के निकट टनकपुर- चम्पावत NH-125 पर वाहन रोडवेज संख्या यूके 07पीए/3206 में एक अभियुक्त के बैग से 04 पॉलिथीन के अन्दर 03 किलो 385 ग्राम चरस बैंग में परिवहन करते हुए गिरफ्तार किया गया।

यह भी पढ़ें 👉  हल्द्वानी में बारिश के बीच उफनाया नाला, युवक बहा, भारी तबाही

अभियुक्त के विरूद्ध वैधानिक कार्यवाही करते हुए कोतवाली चम्पावत में एनडीपीएस एक्ट में मुकदमा पंजीकृत किया गया है। अभियुक्त द्वारा पूछताछ मे बताया कि वह अपने गाँव में भाँग की खेती कर 2 वर्ष में यह चरस तैयार की थी। उक्त चरस को बेचने हेतु मैदानी क्षेत्र में जा रहा था। उक्त बरामदगी में एसओजी के उपनिरीक्षक ललित पाण्डेय व एचपीयू के कांस्टेबल जीवन सौन की अहम भूमिका रही। पुलिस ने अभियुक्त सुरेन्द्र सिंह पुत्र जमन सिंह , उम्र-45 वर्ष, निवासी ग्राम बकोड़ा, थाना तामली, कोतवाली चम्पावत, जनपद चम्पावत के कब्जे से 03 किलो 385 ग्राम चरस बरामद की। पुलिस टीम में योगेश चन्द्र उपाध्याय, प्रभारी निरीक्षक कोतवाली चम्पावत, उपनिरीक्षक सुरेन्द्र सिंह खड़ायत, प्रभारी एसओजी चम्पावत,उपनिरीक्षक नि ललित पाण्डेय SOG/ANTF,उपनिरीक्षक सोनू सिंह कोतवाली चम्पावत, कांस्टेबल जीवन सौन, दुर्गा नाथ शामिल थे।